Bharat Express

अडानी पोर्ट्स को मिला कोलकाता बंदरगाह पर कंटेनर टर्मिनल के संचालन के लिए LOI, सीईओ अश्विनी गुप्ता ने कहा- लोगों को होगा लाभ

Adani Ports: अडानी पोर्ट्स एंड स्पेशल इकोनॉमिक जोन लिमिटेड (APSEZ) को कोलकाता में श्यामा प्रसाद मुखर्जी बंदरगाह पर नेताजी सुभाष डॉक पर कंटेनर सुविधा के संचालन और रखरखाव (O&M) के लिए आशय पत्र (LOI) प्राप्त हुआ है.

Adani Ports

(प्रतीकात्मक तस्वीर)

Adani Ports: भारत के सबसे बड़े पोर्ट डेवलपर और सह-संचालक, अडानी पोर्ट्स एंड स्पेशल इकोनॉमिक जोन लिमिटेड (APSEZ) को कोलकाता में श्यामा प्रसाद मुखर्जी बंदरगाह पर नेताजी सुभाष डॉक पर कंटेनर सुविधा के संचालन और रखरखाव (O&M) के लिए आशय पत्र (LOI) प्राप्त हुआ है. APSEZ ने प्रतिस्पर्धी बोली प्रक्रिया के माध्यम से पांच साल का O&M अपने नाम किया है. जिसके तहत सफल बोलीदाता को स्वीकृति पत्र (LOA) की तारीख से सात महीने के भीतर कार्गो हैंडलिंग उपकरण तैनात करना अनिवार्य है.

डॉक पर APSEZ की उपस्थिति

जानकारी रहे कि नेताजी सुभाष डॉक भारत के पूर्वी तट पर सबसे बड़ा कंटेनर टर्मिनल है. इसने वित्त वर्ष 2023-24 में लगभग 0.63 मिलियन TEUs को संभाला, जो पश्चिम बंगाल, बिहार, उत्तर प्रदेश, झारखंड, असम, पूर्वोत्तर पहाड़ी राज्यों और नेपाल और भूटान जैसे पड़ोसी देशों को कवर करते हुए एक विशाल आंतरिक क्षेत्र में सेवा प्रदान करता है.

कोलकाता पोर्ट अंतर्देशीय जल पारगमन और व्यापार मार्ग पर भारत-बांग्लादेश प्रोटोकॉल के लिए नामित बंदरगाह है. नेताजी सुभाष डॉक में सिंगापुर, पोर्ट केलांग और कोलंबो के हब बंदरगाहों से नियमित लाइनर सेवा कॉल हैं. डॉक पर APSEZ की उपस्थिति से टर्मिनल और इसके कंटेनर बंदरगाहों के बीच कनेक्टिविटी में सुधार होने की संभावना है, विशेष रूप से विझिनजाम और कोलंबो में ट्रांसशिपमेंट हब के साथ, जिन्हें वर्ष के दौरान चालू करने का लक्ष्य रखा गया है.

APSEZ ने क्या कहा?

पीएसईजेड (APSEZ) के पूर्णकालिक निदेशक और सीईओ श्री अश्विनी गुप्ता ने कहा, “नेताजी सुभाष डॉक में कंटेनर हैंडलिंग सुविधाओं के लिए संचालन और रखरखाव अनुबंध का एपीएसईजेड को प्रदान किया जाना देश भर में बंदरगाहों और लॉजिस्टिक्स बुनियादी ढांचे को विकसित करने की हमारी प्रतिबद्धता और पश्चिम बंगाल में हम जो संभावनाएं देखते हैं, उसको दर्शाता है. हम भारत और बाहर विभिन्न कंटेनर टर्मिनलों को कुशलतापूर्वक प्रबंधित करने के अपने दो दशकों से अधिक के अनुभव को लागाएंगे, जिससे ग्राहकों और राज्य के लोगों को लाभ होगा.”

-भारत एक्सप्रेस

Bharat Express Live

Also Read