Amritpal Singh: पाकिस्तान भागने की फिराक में है अमृतपाल! पंजाब पुलिस ने सर्च ऑपरेशन तेज किया, बॉर्डर से सटे इलाकों में की जा रही तलाशी

Amritpal Singh: पुलिस को गुप्तचर विभाग से सूचना मिली थी कि अमृतपाल किसी सीमांत गांव में छिपकर बैठ सकता है और मौका मिलते ही वह सीमा पार पाकिस्तान में दाखिल हो सकता है.

Amritpal Singh

खालिस्तानी समर्थक अमृतपाल सिंह

Amritpal Singh: ‘वारिस पंजाब दे’ प्रमुख अमृतपाल सिंह की तलाश में पंजाब पुलिस जगह-जगह छापेमारी कर रही है. 18 मार्च को पुलिस ने पंजाब के कई जिलों में खालिस्तानी समर्थक अमृतपाल को पकड़ने के लिए ऑपरेशन चलाया था. इस ऑपरेशन के दौरान पुलिस ने अमृतपाल के कई समर्थकों को गिरफ्तार किया लेकिन ‘वारिस पंजाब दे’ प्रमुख अभी भी पुलिस की गिरफ्त में नहीं आया है. पिछले दिनों यह खबर आई थी कि वह होशियारपुर में छिपा हो सकता है. हालांकि, पुलिस की तमाम कोशिशों के बाद भी वह चकमा देकर फरार होने में कामयाब रहा है. अब आशंका जताई जा रही है कि अमृतपाल पाकिस्तान भागने की फिराक में है.

सुरक्षा एजेंसियों के मुताबिक, अमृतपाल लगातार अपना ठिकाना बदलता रहा है. वह पंजाब, हरियाणा, दिल्ली से लेकर यूपी में भी देखा गया है. पहले खबर आई थी कि वह नेपाल भागने की फिराक में है, जिसके बाद नेपाल से सटे बॉर्डर वाले इलाकों में सुरक्षा कड़ी कर दी गई थी. इस बीच, उसका एक वीडियो सामने आया था.

अमृतपाल की आखिरी लोकेशन यूपी के पीलीभीत में मिली थी. इसके बाद वहां भी तलाशी जारी है लेकिन पुलिस को अभी कामयाबी नहीं मिली है. दूसरी तरफ, खालिस्तानी समर्थक के साथी पपलप्रीत सिंह की भी तलाश जारी है. पिछले दिनों वह होशियारपुर में नजर आया था. सीसीटीवी फुटेज में पपलप्रीत के नजर आने के बाद पुलिस ने यहां भी सर्च ऑपरेशन चलाया है. पुलिस कार सेवा वाले डेरों के अलावा अन्य धार्मिक स्थानों पर उसकी तलाश कर रही है.

ये भी पढ़ें: Padma Awards 2023: मुलायम सिंह यादव को मरणोपरांत पद्म विभूषण से किया गया सम्मानित, अखिलेश यादव ने लिया सम्मान

सीमावर्ती इलाकों में चौकसी बढ़ाई गई

सूत्रों की मानें तो अमृतपाल अब पाकिस्तान भागने की फिराक में है. पुलिस को गुप्तचर विभाग से सूचना मिली थी कि अमृतपाल किसी सीमांत गांव में छिपकर बैठ सकता है और मौका मिलते ही वह सीमा पार पाकिस्तान में दाखिल हो सकता है. इस इनपुट के बाद सीमावर्ती इलाकों में चौकसी बढ़ा दी गई है. अटारी, अजनाला से लेकर बाबा बकाला के इलाकों में चौकसी बढ़ा दी गई है. इन इलाकों में नाकाबंदी मजबूत कर दी गई है और बीएसएफ के साथ-साथ आरएएफ की मदद भी ली जा रही है.

-भारत एक्सप्रेस

Bharat Express Live

Also Read