बिहार में फ्लोर टेस्ट से पहले राज्यपाल ने लीगल एडवाइजर बदले, क्या सचमुच में खेला कर देगी RJD?

Bihar Assembly Floor Test: बिहार में फ्लोर टेस्ट से पहले राज्यपाल राजेंद्र आर्लेकर ने अपने लीगल एडवाइजर बदल दिए हैं. इस बीच राजद और बीजेपी के नेताओं के बीच जमकर बयानबाजी हो रही है.

Bihar Assembly Floor Test

सीएम नीतीश कुमार की अग्नि परीक्षा कल.

Bihar Assembly Floor Test: बिहार में फ्लोर टेस्ट से पहले डिनर पाॅलिटिक्स चल रही है. शनिवार को जहां कैबिनेट मंत्री श्रवण चौधरी के आवास पर जेडीयू विधानमंडल दल की बैठक थी तो वहीं आज शाम विजय चौधरी के घर पर जेडीयू विधानमंडल दल की बैठक आयोजित की जा रही है. यह बैठक शाम 5 बजे आयोजित की जाएगी. इस बीच राजभवन से खबर है कि राज्यपाल राजेंद्र आर्लेकर ने अपने कानूनी सलाहकार बदल दिए है.

जानकारी के अनुसार कृष्ण नंदन सिंह को लीगल एडवाइजर, राजीव रंजन पाण्डेय को लीगल एडवाइजर कम रिटेनर और जनार्दन प्रसाद को एडिशनल काउंसिल बनाया गया है. इस बीच राजद नेता मृत्युंजय तिवारी ने कहा कि हमारे सभी विधायकों ने एक साथ रहने का फैसला किया है. सभी एक साथ रहेंगे. सरकार 24 घंटे की मेहमान है. ऑपरेशन लोटस पर ऑपरेशन लालटेन भारी पड़ेगा.

आज राजद-जेडीयू विधानमंडल दल की बैठक

इससे पहले कल जेडीयू कोटे से मंत्री श्रवण कुमार के घर पर जेडीयू विधानमंडल दल की बैठक आयोजित की गई थी. इसमें जेडीयू के 6 विधायक गायब थे. इस पर पार्टी ने कहा है कि कल अनुपस्थित रहे सभी 6 विधायक निजी कारणों से नहीं आ पाए थे. इधर राजद ने भी आज रात्रि में भोज का आयोजन किया है.

राजद के लोग डरे हुए हैं- विजय सिन्हा

वहीं बिहार के डिप्टी सीएम विजय सिन्हा ने कहा कि राजद के लोग डरे हुए हैं. वे जानते हैं उनके विधायक कभी भी उनका साथ छोड़ सकते हैं. क्योंकि वे वंशवादी और भ्रष्ट राजनीति से तंग आ चुके हैं. जिन्होंने बिहारी को एक प्रकार की गाली बना दिया था 21वीं सदी के लोग इससे भी आगे बढ़कर देखने लगे हैं.

Bharat Express Live

Also Read