Bharat Express

अब दिल्ली यूनिवर्सिटी के 2 कॉलेजों को मिली बम से उड़ाने की धमकी

एक दिन पहले ही नॉर्थ ब्लॉक में स्थित पुलिस कंट्रोल रूम को बम की धमकी वाला मेल मिला था. नॉर्थ ब्लॉक में गृह मंत्रालय का कार्यालय है. इसके अलावा स्कूलों, अस्पतालों को भी बम की धमकी वाले मेल मिल चुके हैं.

delhi school bomb threat

लेडी श्रीराम कॉलेज और श्री वेंकटेश्वर कॉलेज में बम की धमकी.

दिल्ली विश्वविद्यालय के प्रतिष्ठित लेडी श्रीराम कॉलेज को गुरुवार (23 मई) को बम से उड़ाने की धमकी मिली है. अभी एक दिन पहले ही गृह मंत्रालय के कार्यालय को भी इसी तरह का धमकी भरा ईमेल मिला था.

कॉलेजों में बम से उड़ाने की धमकी की सूचना के बाद स्थानीय पुलिस, बम निरोधक दस्ता, जांच दल, डॉग स्क्वाड आदि घटनास्थल पर पहुंच गए हैं और तलाशी ले रहे हैं. दिल्ली फायर सर्विस (DFS) ने बताया कि दमकल गाड़ियां और दिल्ली पुलिस के अधिकारी घटनास्थल पर पहुंच गए हैं.

तलाशी के बाद कुछ नहीं मिला

समाचार एजेंसी पीटीआई से बातचीत में लेडी श्रीराम कॉलेज के सुरक्षा गार्ड प्रेम सागर पंडित ने बताया, ‘कॉलेज की प्रिंसिपल को दोपहर में बम होने की सूचना मिली. उन्होंने हमें निर्देश दिया कि हम चक्कर लगाएं और आस-पास के इलाकों पर नजर रखें. पुलिस और बम निरोधक दस्ते ने कॉलेज पहुंचकर तलाशी अभियान चलाया, लेकिन परिसर से कुछ नहीं मिला.’


ये भी पढ़ें: “मैं चिल्ला रही थी और मदद की गुहार लगा रही थी, लेकिन…”- स्वाति मालीवाल ने बताया कैसे हुई थी उनके साथ मारपीट


लेडी श्रीराम (LSR) कॉलेज और श्री वेंकटेश्वर कॉलेज में बम की अफवाह ऐसे समय सामने आई है, जब कुछ दिनों पहले दिल्ली-एनसीआर के अलावा जयपुर, उत्तर प्रदेश और बेंगलुरु के कई स्कूलों, अस्पतालों, मॉल और हवाई अड्डों भी को ईमेल के जरिए बम से उड़ाने की धमकी मिली चुकी है. इस अफवाहों के बाद दहशत फैल गई थी. हालांकि, सभी धमकियां अफवाह निकलीं.

एक दिन पहले ही नॉर्थ ब्लॉक में स्थित पुलिस कंट्रोल रूम को बम की धमकी वाला मेल मिला था. नॉर्थ ब्लॉक में गृह मंत्रालय का कार्यालय है. सूचना मिलने के बाद मौके पर दो दमकल गाड़ियां, डॉग स्क्वॉड और बम निरोधक और डिटेक्शन टीमें तैनात की गई थीं.

पहले भी 150 स्कूलों को मिली थी बम की धमकी

21 मई को दिल्ली पुलिस के अधिकारियों ने कहा था कि इस महीने की शुरुआत में दिल्ली-एनसीआर के करीब 150 स्कूलों को मिले बम की धमकी वाले ईमेल हंगरी की राजधानी बूडापेस्ट से भेजे गए हैं. पुलिस ई-मेल भेजने के लिए इस्तेमाल किए गए आईपी एड्रेस के अलावा, मेल के प्रेषक और स्रोत की भी जांच कर रही है, ताकि बम की अफवाह के पीछे की साजिश और मकसद का पता लगाया जा सके, जिसके कारण दिल्ली-एनसीआर में दहशत फैल गई. अधिकारियों ने कहा कि शुरुआती जांच से यह संदेह पैदा हुआ है कि मौजूदा लोकसभा चुनावों के दौरान एक आतंकी समूह द्वारा “गहरी साजिश” रची गई है.

हाईकोर्ट ने मांगी थी रिपोर्ट

बीते अप्रैल महीने में हाईकोर्ट ने निजी स्कूलों में हुई इन घटनाओं के संबंध में दिल्ली सरकार से विस्तृत स्थिति रिपोर्ट मांगी थी. 17 मई को दिल्ली पुलिस ने राष्ट्रीय राजधानी में हाल ही में हुईं बम की धमकियों के बारे में हाईकोर्ट को एक स्थिति रिपोर्ट सौंपी. उन्होंने हर जिले, आईजीआई हवाई अड्डे, रेलवे स्टेशनों और मेट्रो क्षेत्रों में पांच बम निरोधक दस्ते और 18 बम डिटेक्शन टीमों को तैनात करने का उल्लेख किया.

-भारत एक्सप्रेस

Bharat Express Live

Also Read

Latest