Bharat Express

‘आडवाणी को भारत रत्न इस पुरस्कार का अपमान…’ असदुद्दीन ओवैसी, बोले- उनके गृह मंत्री रहते गुजरात में दंगे हुए

Asaduddin Owaisi on Lal Krishna Advani Bharat Ratna: लालकृष्ण आडवाणी को भारत रत्न दिए जाने के ऐलान के बाद से ही विपक्षी नेताओं की लगातार प्रतिक्रियाएं सामने आ रही है.

Asaduddin Owaisi

असद्दुीन ओवैसी

Asaduddin Owaisi on Lal Krishna Advani Bharat Ratna: भाजपा के महारथी लालकृष्ण आडवाणी को देश के सर्वोच्च सम्मान भारत रत्न से सम्मानित किया जाएगा. इसके बाद विपक्ष की ओर से भी तरह-तरह की प्रतिक्रियाएं सामने आ रही है. कुछ नेता इसे चुनावी स्टंट बता रहे हैं तो कुछ इस फैसले की सराहना भी कर रहे हैं. हालांकि एआईएमआईएम चीफ असद्दुीन ओवैसी ने इसे लेकर अफसोस प्रकट किया है. उन्होंने कहा कि आडवाणी को देश का सर्वोच्च सम्मान देने का फैसला केंद्र सरकार का गलत फैसला है.

ओवैसी ने कहा कि आडवाणी को भारत रत्न का सम्मान देना इस पुरस्कार का अपमान है. उन्होंने कहा कि आडवाणी की मौजूदगी में ही अयोध्या में बाबरी का ढांचा ढहाया गया था. जब वे गृह मंत्री थे तब गुजरात में दंगे हुए थे. हम केंद्र सरकार के फैसले को गलत मानते हैं. ओवैसी ने आरोप लगाया कि अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के लिए आडवाणी ने रथ यात्रा निकाली थी.

यह भी पढ़ेंः महाराष्ट्र में राज्यसभा चुनाव से पहले खेला करने की तैयारी में BJP, कांग्रेस के 15 MLA NCP शामिल होंगे!

केंद्र सरकार का दुर्भाग्यपूर्ण फैसला

हैदराबाद के इस सांसद ने कहा कि उनकी यह यात्रा जहां-जहां गई थी वहां-वहां दंगे हुए. इतना ही नहीं ओवैसी ने पोस्ट शेयर कर दंगों में हुई मौतों के आंकड़ों का हवाला भी दिया. ओवैसी ने आडवाणी पर आरोपों की बौछार कर दी. उन्होंने कहा कि पाकिस्तान यात्रा के दौरान आडवाणी ने मोहम्मद अली जिन्ना की तारीफ की. ऐसे में यह दुर्भाग्यपूर्ण फैसला है कि केंद्र सरकार उन्हें सर्वोच्च नागरिक सम्मान दे रही है.

बता दें कि पीएम मोदी ने स्वयं सोशल मीडिया पर पोस्ट कर बीजेपी के भीष्म पितामह लालकृष्ण आडवाणी को सर्वोच्च सम्मान भारत रत्न से सम्मानित करने का फैसले की जानकारी दी थी. इसके बाद से ही विपक्ष की अलग-अलग प्रतिक्रियाएं सामने आ रही है.

यह भी पढ़ेंः ‘हमें कोई निमंत्रण नहीं मिलता…’ अखिलेश यादव ने न्याय यात्रा में शामिल होने को लेकर ऐसा क्यों कहा?

Bharat Express Live

Also Read

Latest