KCR से मिले CM रेवंत रेड्डी, सर्जरी के चलते अस्पताल में भर्ती हैं पूर्व मुख्यमंत्री

KCR बाथरूम में फिसलकर गिर गए थे, जिसके चलते उनके कूल्हे की सर्जरी की गई और वे फिलहाल अस्पताल में भर्ती हैं.

Revanth Reddy Met KCR: तेलंगाना के पूर्व सीएम केसीआर से नए सीएम रेवंत रेड्डी ने अस्पताल में मुलाकात की है. पूर्व सीएम केसीआर विधानसभा चुनाव के नतीजे आने के बाद 7 दिसंबर की रात अपने बाथरूम में फिसलकर गिर गए थे, इसके बाद उनके कूल्हे की सर्जरी कर इलाज किया गया है. मुख्यमंत्री रेवंत रेड्डी केसीआर से मिलने पहुंचे. बता दें केसीआर को हैदराबाद के ही यशोदा अस्पताल में भर्ती कराया गया है. डॉक्टरों का कहना है कि वे जल्दी ही ठीक हो जाएंगे, और अपना काम फिर से शुरू करेंगे.

केसीआर को देखने पहुंचे सीएम रेवंत रेड्‌डी को पूर्व सीएम के बेटे केटीआर ने रिसीव किया. इस दौरान रेड्‌डी ने केटीआर की पीठ पर हाथ रखा और उनके पिता के स्वास्थ्य के बारे में जानकारी ली. इसके बाद सीएम रेवंत रेड्‌डी ने ऊपर जाकर केसीआर से मुलाकात की और उनकी तबियत पूछी. केसीआर का एर्रावल्ली फार्म हाउस हैदराबाद से 60 किलोमीटर दूरी है. चुनावों के बाद वे वहीं शिफ्ट हो गए थे.

यह भी पढ़ें- क्या राजनीति आने वाली हैं परिणीति चोपड़ा ? अभिनेत्री ने तोड़ दी चुप्पी

बेटे केटीआर से की बातचीत 

विधानसभा चुनावों में केसीआर की पार्टी भारत राष्ट्र समिति (BRS) को हराकर मुख्यमंत्री बने रेवंत रेड्‌डी पिछले कुछ सालों में केसीआर को भ्रष्टाचार और परिवार के लेकर निशाने पर लेते आए हैं, दोनों नेताओं के बीच लंबे समय बाद मुलाकात हुई है. केसीआर के मिलने के बाद रेवंत रेड्‌डी ने कहा कि वे चाहते हैं कि केसीआर जल्द स्वस्थ्य हो जाएं और फिर विधानसभा की बैठकों में भाग लेना शुरू करें. रेवंत रेड्‌डी मुख्यमंत्री बनने से पहले के सफर में केसीआर के साथ भी कम कर चुके हैं.

यह भी पढ़ें-Chhattisgarh: छत्तीसगढ़ में विष्णु देव साय के साथ होंगे दो डिप्टी सीएम, रमन सिंह बनेंगे विधानसभा अध्यक्ष

रेवंत रेड्डी ने केसीआर के साथ किया काम

भारत राष्ट्र समिति के मुखिया के चंद्रशेखर राव ने जब तेलंगाना राज्य के निर्माण को लेकर आंदोलन शुरू किया था तब रेवंत रेड्‌डी उनके साथ थे. केसीआर ने 2001 में राज्य में इसकी शुरूआत करते हुए टीआरएस का गठन किया था. करीब 6 सालों तक केसीआर के साथ रहने के बाद रेवंत रेड्‌डी केसीआर से अलग हो गए थे और फिर बाद निर्दलीय एमएमसी बनने के बाद टीडीपी (तेलगू देशम पार्टी) में शामिल हो गए थे.

-भारत एक्सप्रेस

Bharat Express Live

Also Read