NDA में शामिल हुए जयंत चौधरी, कहा- “हम लोगों के लिए कुछ अच्छा करना चाहते हैं”

RLD प्रमुख जयंत चौधरी ने कहा, “मैंने अपनी पार्टी के सभी विधायकों और कार्यकर्ताओं से बात करने के बाद यह फैसला लिया.

Choudhary Charan Singh Bharat Ratna

रालोद प्रमुख जयंत चौधरी.

RLD प्रमुख जयंत चौधरी ने NDA में शामिल होने का फैसला लिया है. NDA में शामिल होने पर RLD प्रमुख जयंत चौधरी ने कहा, “मैंने अपनी पार्टी के सभी विधायकों और कार्यकर्ताओं से बात करने के बाद यह फैसला लिया. इस फैसले के पीछे कोई बड़ी प्लानिंग नहीं थी. हमें थोड़े समय में ही यह फैसला लेना पड़ा. हम लोगों के लिए कुछ अच्छा करना चाहते हैं.”

केंद्र सरकार द्वारा पूर्व पीएम चौधरी चरण सिंह को भारत रत्न देने के फैसले के बाद रालोद के अध्यक्ष जयंत चौधरी ने पीएम मोदी की पोस्ट पर रिप्लाई करते हुए लिखा कि ‘दिल जीत लिया’. इसी के बाद से कयास लगाए जा रहे थे कि वे भाजपा गठबंधन में जा सकते हैं. वहीं आज के घटनाक्रम पर नजर डालें तो पीएम मोदी का चैधरी चरण सिंह को भारत रत्न देने की घोषणा और उसके बाद पीएम मोदी की तारीफ में सोशल मीडिया पर दिल जीत लिया लिखना कहानी को बयां कर रहा है.

पश्चिमी यूपी का गणित

यूपी में पश्चिम को साधने के लिए हर राजनीतिक दल अपनी-अपनी जुगत हमेशा से भिड़ाता रहा है. अगर पश्चिमी यूपी के सियासी गणित की बात करें तो यहां 27 लोकसभा सीटें हैं, जिसमें से भाजपा ने 19, सपा ने 4 और बसपा ने 4 सीटों पर विजय हासिल की थी, लेकिन रालोद की किसी भी सीट पर जीत नहीं हुई थी. यहां तक कि जयंत को पश्चिमी यूपी के जाट समाज का भी साथ नहीं मिला था. इतना ही नहीं 2014 के चुनाव में भी जयंत को निराशा ही मिली थी और एक भी सीट पर जीत हासिल नहीं हुई थी.

इसे भी पढ़ें: Ayodhya News: राम मंदिर उद्घाटन के बाद तेजी से बढ़ा अयोध्या का पर्यटन कारोबार, 2028 तक यूपी भारत की अर्थव्यवस्था में होगा दूसरे स्थान पर

पश्चिम यूपी में मुस्लिम और जाट आबादी को साधने के लिए हर राजनीतिक दल अपनी-अपनी गणित लगाते रहते हैं. बता दें कि यहां पर करीब 18 प्रतिशत जाट आबादी है, जो सीधे चुनाव पर असर डालती है. यानी पश्चिमी यूपी के जाट समुदाय का ये एकमुश्त वोट किसी भी दल की हार-जीत तय करने में अहम रोल निभाता है.

Bharat Express Live

Also Read