UP News: भाजपा सांसद बृजभूषण शरण सिंह के बेटे करन भूषण बने UP कुश्ती संघ के अध्यक्ष, नई कमेटी का हुआ गठन

UP Wrestling Association: उत्तर प्रदेश कुश्ती संघ का उपाध्यक्ष सुरेशचंद्र उपाध्याय को चुना गया तो वहीं संजय सिंह को वरिष्ठ उपाध्यक्ष.

फोटो सोशल मीडिया

UP Wrestling Association: देश के शीर्ष पहलवानों द्वारा लगाए गए गम्भीर आरोपों से घिरे भाजपा सांसद बृजभूषण शरण सिंह के बेटे करनभूषण सिंह को UP कुश्ती संघ का अध्यक्ष चुन लिया गया है. इससे पहले करन भारतीय कुश्ती महासंघ में वरिष्ठ उपाध्यक्ष रह चुके हैं तो वहीं प्रदेश कुश्ती संघ की कमान अब तक बृजभूषण के ही हाथ थी. रविवार को भारतीय कुश्ती महासंघ के पूर्व अध्यक्ष व कैसरगंज के भाजपा सांसद बृजभूषण शरण सिंह के बेटे करनभूषण सिंह को उप्र कुश्ती संघ का अध्यक्ष चुनने के बाद बड़ी जिम्मेदारी सौंपी गई है.

मीडिया सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक, नवाबगंज के नंदिनीनगर स्थित कुश्ती प्रशिक्षण केंद्र में भारतीय कुश्ती महासंघ (डब्ल्यूएफआई) के पूर्व अध्यक्ष संजय सिंह के नेतृत्व में वार्षिक आम बैठक (एजीएम) आहुत की गई. तो वहीं उप्र कुश्ती संघ ( UP Wrestling Association) की चुनावी प्रकिया सेवानिवृत्त न्यायाधीश अनिल कुमार सिंह की देख-रेख में संपन्न हुई. तो वहीं उप्र कुश्ती संघ के अध्यक्ष पद के लिए करनभूषण सिंह के नाम का प्रस्ताव रखा गया. इस पर सर्वसम्मति से उनको अध्यक्ष चुन लिया गया. इस मौके पर बतौर पर्यवेक्षक ओलंपिक एसोसिएशन के प्रतिनिधि परमेंद्र सिंह एवं डब्ल्यूएफआई के प्रतिनिधि एसपी देशवाल मौजूद रहे. बता दें कि उत्तर प्रदेश कुश्ती संघ का उपाध्यक्ष सुरेशचंद्र उपाध्याय को चुना गया तो वहीं संजय सिंह को वरिष्ठ उपाध्यक्ष, विजय शंकर यादव, जयप्रकाश शर्मा, सुशील राजपूत, आदित्य प्रताप, आनंद देव उपाध्याय एवं चंद्रविजय सिंह को संयुक्त सचिव चुना गया है. अखंड प्रताप सिंह कोषाध्यक्ष बनाया गया है.

ये भी पढ़ें-Gyanvapi Case Update: ज्ञानवापी व्यासजी तहखाने मामले में अब 15 को होगी सुनवाई, जारी रहेगी पूजा, मुस्लिम पक्ष ने किया बड़ा दावा

भाजपा सांसद पर लगे हैं ये आरोप

बता दें कि देश से शीर्ष महिला व पुरुष पहलवानों ने भाजपा सांसद बृजभूषण शरण सिंह पर यौन शोषण का आरोप लगाया है. इस मामले में हाल ही में राउज एवेन्यू कोर्ट में सुनवाई भी हो चुकी है. हालांकि अपने ऊपर लगे आरोपों का भाजपा सांसद खंडन कर चुके हैं और कहा है कि उनके ऊपर झूठे आरोप लगाए जा रहे हैं. राजनीतिक साजिश के तहत उनको फंसाया जा रहा है. बता दें कि पहलवान बजरंग पूनिया, साक्षी मलिक और विनेश फोगाट समेत कई पहलवानों ने बृजभूषण शरण सिंह पर यौन शोषण का आरोप लगाया है. भाजपा सांसद के खिलाफ सात पहलवानों ने यौन शोषण के दो मुकदमे दर्ज कराए थे. इनमें एक केस नाबालिग पहलवान ने दर्ज कराया था हालांकि वो बाद में अपने बयान से पलट गई, लेकिन बालिग पहलवानों की शिकायत पर दर्ज केस में धारा 354, 354-A और D के तहत चार्जशीट दाखिल की गई है.

-भारत एक्सप्रेस

Bharat Express Live

Also Read