Mainpuri Bypolls: …अगर अखिलेश गड़बड़ करें तो तुम हमारे साथ रहना- शिवपाल यादव ने डिंपल से और क्या कहा..

Mainpuri election: शिवपाल ने सपा परिवार की बहू डिंपल यादव का समर्थन करते हुए कहा कि ये चुनाव नेताजी का प्रतिष्ठा का है. ”बहू चुनाव लड़ रही है तो हम एक हो गए, हमने अखिलेश से कह दिया अब एक ही रहेंगे.

SHIVPAL YADAV

हम सब एक साथ हैं- शिवपाल यादव

उत्तरप्रदेश के मैनपुरी लोकसभा चुनाव में लड़ाई अब और भी दिलचस्प हो गई. क्योंकि यादव परिवार एक बार फिर एकजुट होता हुआ नजर आ रहा है. जब से सपा ने डिंपल यादव को मैनपुरी सीट से प्रत्याशी बनाया है, तभी चाचा शिवपाल और अखिलेश के बीच की दूरियां कम होती दिख रही हैं. आज एक बार फिर चाचा शिवपाल ने परिवार के एकजुट होने की बात कही है.

शिवपाल ने बहू डिंपल यादव का समर्थन करते हुए कहा कि ये चुनाव नेताजी का प्रतिष्ठा का है. ”बहू चुनाव लड़ रही है तो हम एक हो गए, हमने अखिलेश से कह दिया अब एक ही रहेंगे”.

‘अखिलेश गड़बड़ करें तो तुम हमारे साथ रहना’

शिवपाल यादव ने अपनी बात को आग बढ़ाते हुए कहा कि हमने डिंपल से कहा अबकी बार अखिलेश गड़बड़ करे तो तुम हमारे साथ ही रहना, शिवपाल के इस बयान के बाद से यूपी की सियासत में एक बार फिर सपा पार्टी में मजबूत स्थिति में नजर आ रही है. शिवपाल ने बताया कि बहु डिंपल ने उन्हें फोन किया था. कहा था कि आ जाओ, मैं आ गया. सब लोग कहते थे कि एक हो जाओ. अब एक हो गए हैं. अब चाहे जो हो जाए, हम एक साथ ही रहेंगे. मुलायम सिंह के निधन के बाद मैनपुरी लोकसभा सीट खाली हुई है. जिसके लिए सपा ने बहू डिंपल यादव को मैदान में उतारा है.

‘डिंपल ने बुलाया और हम आ गए’

बता दें कि काफी समय से अखिलेश और शिवपाल के बीच मतभेद चल रहे हैं. जिसके चलते शिवपाल ने अपनी अलग पार्टी भी बना ली थी. शिवपाल यादव ने अखिलेश यादव पर उपेक्षा का आरोप लगाया था. जिसके बाद दोनों की राह अलग-अलग हो गई थीं. मुलायम सिंह के निधन के बाद से ही शिवपाल ने अभी तक मीडिया से खुलकर बात नहीं की थी. लेकिन काफी समय बाद उन्होने मीडिया के सामने बातें साफ की, उन्होने कहा कि डिंपल हमसे अलग थोड़े हैं. अब जब डिंपल ही चुनाव लड़ रही है तो हम आ गए हैं. यह ना केवल नेता जी की प्रतिष्ठा की बात है, बल्कि उनके बाद इस सीट पर उनकी भी प्रतिष्ठा फंसी है.

शिवपाल ने कहा कि बहुत सालों तक दूर रह लिए अब तो जब तक राजनीति में रहेंगे एक साथ रहेंगे. उन्होंने कहा कि अब हमें एक दो चुनाव और लड़ना है. इसके बाद तो लड़के ही चुनाव लड़ेंगे. इसी के साथ शिवपाल यादव ने सब लोगों से हाथ जोड़कर विनती की. कहा कि जब ज्यादा वोट समाजवादी पार्टी के प्रत्याशी डिंपल यादव के पक्ष में पड़ेंगे तो ही नेता जी को सच्ची श्रद्धांजलि मिलेगी.

भारत एक्सप्रेस



 

Bharat Express Live

Also Read