खाकी हुई फिर शर्मसार, लखनऊ के एएसपी राहुल श्रीवास्तव पर छात्रा से दुष्कर्म का आरोप, पीड़िता की अश्लील तस्वीरें ले करता था ब्लैकमेल

Lucknow: पीड़ित छात्रा ने एएसपी की हरकतों से तंग आकर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से न्याय की गुहार लगाई थी. इसी के बाद ये बड़ी कार्रवाई की गई है.

फोटो-सोशल मीडिया

UP Police: उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में एक पुलिस अधिकारी ने खाकी को शर्मसार कर दिया है. दरअसल एडिशनल एसपी राहुल श्रीवास्तव पर एक छात्रा ने रेप करने का आरोप लगाया है. इसी के साथ ही छात्रा ने ये भी आरोप लगाया है कि, उसके प्रेग्नेंट होने पर पुलिस अधिकारी ने उसका जबरन गर्भपात करवाया और ब्लैकमेल किया. इसके बाद पीड़िता की शिकायत पर मामला दर्ज कर लिया गया है. तो दूसरी ओर एएसपी राहुल श्रीवास्तव को सस्पेंड कर दिया गया है और मामले की जांच आगे जारी है.

मीडिया सूत्रों के मुताबिक, पीड़ित छात्रा कंपीटिटिव एग्जाम की तैयारी कर रही है. पीड़िता ने अपने साथ ही घटना को लेकर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और डीजीपी से न्याय की गुहार लगाई थी. इसी के बाद मामले को संज्ञान में लेने के बाद अधिकारी को सस्पेंड कर दिया गया है. बता दें कि पीड़िता ने गोमतीनगर थाने में एएसपी राहुल श्रीवास्तव के खिलाफ रेप और उसके बाद गर्भपात कराने के लिए दबाव बनाने की शिकायत दर्ज करवाई है.

ये भी पढ़ें-Lucknow: फर्जी हलाल सर्टिफिकेशन देने के मामले में बड़ी कार्रवाई, STF ने 4 लोगों को किया गिरफ्तार, रहने वाले हैं मुंबई के

नशीला पदार्थ खिलाकर रेप करने का लगाया आरोप

पीड़ित छात्रा लखनऊ में सिविल सर्विसेज परीक्षा की तैयारी कर रही है. पीड़िता ने बताया कि, उसकी मुलाकात एएसपी राहुल श्रीवास्तव से हुई. तो वहीं छात्रा ने ये भी आरोप लगाया है कि, एएसपी राहुल श्रीवास्तव उसे अपने साथ एक होटल के कमरे में ले गए और उस जबरन नशीला पदार्थ खिलाकर नशे की हालत में रेप किया. पीड़िता ने ये भी आरोप लगाया है कि, पुलिस अधिकारी ने उसकी अश्लील तस्वीरें भी खींची थीं और इन तस्वीरों के जरिए वह उसे ब्लैकमेल करते थे.

इसी के आधार पर एएसपी ने एक बार नहीं बल्कि कई बार उसके साथ रेप किया, जिससे वह गर्भवती हो गई. पीड़ित छात्रा ने पुलिस को दी शिकायत में बताया है कि, जब यह बात एएसपी को पता चली तो उसने जबरन उसका गर्भपात करा दिया. पीड़िता ने ये भी आरोप लगाया है कि एएसपी राहुल श्रीवास्तव ने उसके साथ लखनऊ के चार बड़े होटलों में रेप किया. इसी के साथ ही वह पीड़ित छात्रा को वाराणसी और दिल्ली के भी होटल में लेकर गया. पीड़िता ने आरोप लगाया है कि, एएसपी की हरकतों से परेशान आकर ही उसने पुलिस अधिकारी के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई है. इसी के साथ ही पीड़िता ने सीएम योगी और यूपी के डीजीपी से न्याय की गुहार लगाई थी, जिसके बाद पूर्व डीजीपी विजय कुमार की सिफारिश के बाद एएसपी पर शिकंजा कसा गया और केस दर्ज करते हुए उसे सस्पेंड कर दिया गया.

विभागीय जांच शुरू

दूसरी ओर पीड़ित छात्रा की शिकायत के बाद प्रदेश सरकार ने भी संज्ञान लिया है और राहुल श्रीवास्तव को सस्पेंड कर दिया गया इसी के साथ ही विभागीय जांच भी शुरू कर दी गई है. फिलहाल पुलिस मामले की जांच में जुट गई है और फुटेज की मदद से डिटेल जुटाने की कोशिश की जा रही है. राहुल श्रीवास्तव से पहले भी कई पुलिस वालों पर इस तरह के आरोप लग चुके हैं.

-भारत एक्सप्रेस

Bharat Express Live

Also Read