Bharat Express

संसद की सुरक्षा में सेंध लगाने की जांच के लिए कोर्ट ने दिल्ली पुलिस को दिया और समय

संसद पर वर्ष 2001 में हुए हमले की बरसी पर पिछले साल दो लोग सागर शर्मा और मनोरंजन डी. लोकसभा के दर्शक दीर्घा से सदन में कूद गए थे और कैन से पीले रंग का धुआं छोड़ा था और नारेबाजी की थी।

parliament security

संसद भवन की सुरक्षा में चूक

अदालत ने संसद की सुरक्षा में सेंध लगाने की जांच के लिए दिल्ली पुलिस को और समय प्रदान कर दिया। पटियाला हाउस कोर्ट के अतिरिक्त सत्र न्यायधीश हरदीप कौर ने पुलिस को जांच के लिए 13 दिन और दिया है। पुलिस ने इससे पहले अर्जी दाखिल कर कहा था कि कुछ रिपोर्ट का इंतजार है और डिजिटल डेटा बहुत अधिक है। इसलिए जांच पूरी करने के लिए और समय की जरूरत है।

संसद की सुरक्षा पड़ गई थी खतरे में

संसद पर वर्ष 2001 में हुए हमले की बरसी पर पिछले साल दो लोग सागर शर्मा और मनोरंजन डी. लोकसभा के दर्शक दीर्घा से सदन में कूद गए थे और कैन से पीले रंग का धुआं छोड़ा था और नारेबाजी की थी। इस दौरान वे छलांग लगाकर सांसदों के बीच पहुंच गए। आनन-फानन में दोनों को हिरासत में ले लिया गया. घटना के समय सदन में शून्यकाल चल रहा था और सांसदों ने उन्हें पकड़ लिया था। उसी समय दो अन्य आरोपी अमोल शिंदे व नीलम आजाद ने संसद परिसर के बाहर कैन से धुआं छोड़ा और ‘तानाशाही नहीं चलेगी’ के नारे लगाए थे।

इसे भी पढ़ें: वामपंथियों को जीत मिली तो फिर नक्सलवाद आ जाएगा, ये केवल बंदूक की भाषा समझते हैं: बिहार में गरजे अमित शाह

Bharat Express Live

Also Read

Latest