Election Results 2023: तीन राज्यों में कांग्रेस की हार पर गुलाम नबी आजाद ने कसा तंज, पार्टी की बुरी हालत के लिए कही ये बात

Election Results 2023: गुलाम नबी आजाद ने कांग्रेस की हार पर तंज कसा है और कहा है कि पार्टी अल्पसंख्यकों से दूर हो गई है.

Election Result 2023: चार राज्यों के वोटों की वोटिंग जारी है. इस बीच मध्य प्रदेश, राजस्थान, छत्तीसगढ़ और तेलंगाना चुनाव रिजल्ट पर कांग्रेस के पूर्व नेता और डीपीएपी अध्यक्ष गुलाम नबी आजाद ने प्रतिक्रिया दी है. गुलाम नबी आजाद ने कहा है कि अभी जो रुझान आ रहे हैं वो बहुत जल्द वाला ट्रेंड है मेरे ख्याल में असली ट्रेंड शाम 6-7 बजे के बाद पता चलेगा. हालांकि इस दौरान आजाद ने कांग्रेस पार्टी पर तगड़ा हमला बोला है.

गुलाम नबी आजाद ने इस दौरान कांग्रेस पर वार किया. आजाद ने कहा कि एक चीज मैंने 20-25 दिनों में जो महसूस की कि जिस कांग्रेस को अल्पसंख्यकों का चैंपियन माना जाता था, उसने अल्पसंख्यकों के बारे में बात नहीं की. अब अल्पसंख्यक कांग्रेस के एजेंडे में नहीं हैं. गुलाम नबी आजाद ने कहा है कि बीजेपी कभी अल्पसंख्यक की बात नहीं करती है, लेकिन कांग्रेस जिसको चैंपियन माना जाता था अल्पसंख्यकों का, उसने बात नहीं की. ओबीसी सीएम की बात की, लेकिन अल्पसंख्यकों के बारे में नहीं किया गया. उनकी नौकरी, नेताओं की बात नहीं की.

यह भी पढ़ें-Rajasthan Election 2023: राजस्थान में इन पांच वजहों से BJP ने मारी बाजी, यहां चूक गए अशोक गहलोत

क्या हैं अब तक के परिणाम

अब तक के परिणामों की बात करें तो छत्तीसगढ़ की 90 सीटों में से बीजेपी 55, कांग्रेस 32 सीटों पर आगे चल रही है. यहां कांग्रेस को बड़ा झटका लगा है. वहीं मध्य प्रदेश और राजस्थान में भी बीजेपी बड़ी जीत की ओर बढ़ रही है. मध्य प्रदेश में बीजेपी 161, कांग्रेस 67, बीएसपी एक सीटों पर आगे है. राजस्थान में बीजेपी 114, कांग्रेस 70 और निर्दलीय 7 और बीएसपी दो सीटों पर आगे है. तेलंगाना में कांग्रेस 64, बीआरएस 40, बीजेपी आठ, एआईएमआईएम 6 और सीपीआई एक सीट पर आगे है.

यह भी पढ़ें-Rajasthan Election Result 2023: राजस्थान में कांग्रेस बड़े अंतर से हारी, लेकिन अशोक गहलोत और सचिन पायलट अपनी-अपनी सीटों पर जीते, देखें नतीजे

कांग्रेस छोड़ बनाया था अपना दल 

बता दें कि राज्यसभा का कार्यकाल खत्म होने के बाद गुलाम नबी आजाद ने  कांग्रेस पार्टी से इस्तीफा दे दिया था और अपनी अलग क्षेत्रीय पार्टी बना ली थी. इस दौरान उन्होंने कई मौकों पर बीजेपी और पीएम मोदी की तारीफ भी की थी. इतना ही नहीं, इस दौरान कांग्रेस के कुछ नेता भी आए दिन गुलाम नबी आजाद पर हमला बोल रहे थे.

-भारत एक्सप्रेस 

Bharat Express Live

Also Read