सोमालिया में हाईजैक हुए जहाज को कराया गया मुक्त, मार्कोस कमांडोज के ऑपरेशन का वीडियो आया सामने, हेडक्वॉर्टर से रखी जा रही थी नजर

Cargo Ship MV Lila Norfolk: अरब सागर में सोमालिया के तट के पास हाईजैक हुए कार्गो शिप एमवी लीला नॉरफॉक को भारतीय नौसेना के जवानों ने मुक्त करा लिया.

marcos commando

हाईजैक हुए जहाज को कराया गया मुक्त

Cargo Ship MV Lila Norfolk: अरब सागर में सोमालिया के तट के पास हाईजैक हुए कार्गो शिप एमवी लीला नॉरफॉक को भारतीय नौसेना के जवानों ने मुक्त करा लिया. इस दौरान जहाज पर मौजूद सभी 15 भारतीय समेत 21 क्रू मेंबर्स को भी सुरक्षित बचा लिया गया. कार्गो शिप को 5-6 हथियारबंद लोगों ने अपहरण करने की कोशिश की थी.

ऑपरेशन का एक वीडियो भी सामने आया है

इंडियन नेवी के जवानों की ओर से चलाए गए इस ऑपरेशन का एक वीडियो भी सामने आया है. जिसमें भारतीय नौसेना के मरीन कमांडो कार्गो शिप पर ऑपरेशन के लिए घुसते हुए दिखाई दे रहे हैं. इन मरीन कमांडोज को मार्कोस कहा जाता है. ये समुद्र में बेहद ही खतरनाक ऑपरेशंस को अंजाम देने में मााहिर होते हैं. नौसेना लाइव फीड के जरिए मार्कोस कमांडो के इस रेस्क्यू ऑपरेशन की निगरानी कर रही थी.

हथियारबंद लोगों ने किया था अगवा

दरअसल, समुद्री सुरक्षा की निगरानी के लिए काम करने वाले संगठन UKMTO ने कार्गो शिप एमवी लीला नॉरफॉक के अगवा किए जाने की जानकारी भारत को दी थी.शिप के चालक दल की ओर से एक संदेश भेजा गया था, जिसमें कहा गया था कि 5-6 हथियारबंद लोग शिप पर आ गए हैं और उन्होंने जहाज पर मौजूद सभी लोगों को बंधक बना लिया है. चालक दल का संदेश मिलते ही भारतीय नौसैनिक अलर्ट हो गए. तत्काल बिना देरी किए आईएनएस चेन्नई को सोमालिया के करीब फंसे इस जहाज के पास रवाना कर दिया गया.

जहाज को छोड़कर भागे हाइजैकर्स

सबसे पहले इंडियन नेवी ने एक मैरिटाइम पैट्रोलिंग एयरक्राफ्ट P81 को जहाज की ओर भेजा, इसके बाद कार्गो शिप की सुरक्षा के लिए INS चेन्नई को भी रवाना कर दिया गया. इंडियन नेवी ने अपहरणकर्ताओं को कड़ी चेतावनी दी थी, इसके बाद नौसेना के मार्कोस कमांडोज की एक टीम भी वहां पर पहुंच गई, जिसके पहुंचने से पहले ही हथियारबंद लोग जहाज को छोड़कर भाग गए.

समुद्र में जहाजों पर बढ़े हमले

बता दें कि इससे पहले अरब और लाल सागर में कार्गो शिप पर हमले काफी बढ़ गए हैं. लगातार इन जहाजों पर हमले किए जा रहे हैं. 14 दिसंबर को समुद्री लुटेरों ने माल्टा के एक जहाज को हाईजैक कर लिया था. इसके बाद इंडियन नेवी ने जहाज की मदद के लिए एक वॉरशिप को अदन की खाड़ी में भेजा था.

-भारत एक्सप्रेस

Bharat Express Live

Also Read