UP News: यूपी विधानसभा में CM योगी ने अखिलेश यादव पर साधा निशाना, बोले- “अगर राम को मानते तो चच्चू…”

UP Assembly: मुख्यमंत्री कहा, “2017 से पहले उत्तर प्रदेश में जिन लोगों ने शासन किया. वे उत्तर प्रदेश को कहां लेकर गए? उन्होंने उत्तर प्रदेश वासियों के सामने पहचान का संकट खड़ा कर दिया था.”

फोटो-सोशल मीडिया

 UP Assembly: यूपी विधानमंडल का बजट सत्र जारी है. पांच फरवरी को बजट पेश करने के बाद राम मंदिर जाने को लेकर भाजपा और सपा में बयानबाजी लगातार जारी है. भाजपा ने सभी विधायकों को 11 फरवरी को अयोध्या दर्शन कराने का आमंत्रण दिया है जिसे सपा नेताओं ने अस्वीकार कर दिया है तो वहीं अयोध्या में बनने वाली मस्जिद के निमंत्रण को लेकर प्रस्ताव की बात कही है. फिलहाल बुधवार को यूपी विधानसभा की बैठक में सीएम योगी ने संबोधन करते हुए सपा प्रमुख अखिलेश यादव पर जमकर निशाना साधा.

 

उत्तर प्रदेश विधानसभा के बजट सत्र के दौरान उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा, “2017 से पहले उत्तर प्रदेश में जिन लोगों ने शासन किया. वे उत्तर प्रदेश को कहां लेकर गए? उन्होंने उत्तर प्रदेश वासियों के सामने पहचान का संकट खड़ा कर दिया था.” इसी के साथ सीएम योगी ने आगे कहा कि, “यहां का नौजवान पहचान छिपाने के लिए मजबूर था. नौजवान कहीं जाता था तो नौकरी नहीं मिलती थी. किराए पर कमरे की बात तो दूर होटल और धर्मशालाओं में भी कमरे नहीं मिल पाते थे और आज उत्तर प्रदेश ने 22 जनवरी 2024 की घटना को भी देखा है.”

ये भी पढ़ें-Bharat Jodo Nyay Yatra: यात्रा शुरू करने से पहले राउरकेला में मंदिर पहुंचे राहुल गांधी, विधि-विधान से की पूजा

काशी और मथुरा पर भी किया इशारा

इस मौके पर मुख्यमंत्री योगी ने भाषण देते हुए कहा कि, पांडवों ने कौरवों से सिर्फ पांच गांवों की मांग की थी पर वो नहीं दिया गया. देश का बहुसंख्यक समाज तो सिर्फ तीन स्थानों (अयोध्या, मथुरा और काशी) की मांग कर रहा था उसके लिए उसे गिड़गिड़ाना पड़ा. उन्होंने आगे कहा कि, अब अयोध्या में भव्य राम मंदिर बन गया है. काशी और मथुरा को हम कैसे भूल सकते हैं. ये काम तो आजादी के बाद ही हो जाना चाहिए था पर वोट बैंक के लिए लोक आस्था के इन स्थानों से दूरी बनाकर रखी गई.

हम करके दिखाते हैं

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने विधानसभा में राज्यपाल के अभिभाषण पर बोलते हुए कहा कि, 22 जनवरी को अयोध्या में प्राण प्रतिष्ठा का कार्यक्रम हुआ. उन्होंने कहा कि, इसके जरिये भारत के गौरव की पुर्नप्रतिष्ठा हुई है. सीएम आगे बोले कि, हमें खुशी है कि अयोध्या का पुराना गौरव वापस लौट आया है. हमें खुशी है कि हमने अपना वचन निभाया और मंदिर वहीं बनाया. इसी के साथ ही मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गर्व से कहा कि, हम सिर्फ कहते नहीं हैं बल्कि करके दिखाते हैं. इसी के साथ ही आगे सीएम ने कहा कि, अयोध्या के साथ अन्याय हुआ. वहां के लोगों के साथ अन्याय हुआ है. मंदिर का मामला तो न्यायालय में था तो क्या वहां सड़क और बिजली नहीं दी जा सकती थी. क्या सरयू के घाटों की सफाई नहीं की जा सकती थी लेकिन अयोध्या को कुत्सित मंशा के कारण अभिशप्त रखा गया.

शिवपाल की ली चुटकी

इसी के साथ ही भाषण देते हुए सीएम योगी ने शिवपाल की चुटकी ली और अखिलेश पर निशाना साधते हुए कहा कि, आप तो चच्चू को ही भूल गए. यदि प्रभु श्रीराम को यह लोग मानते तो चच्चू के साथ अन्याय नहीं करते. सीएम योगी के चच्चू वाले सम्बोधन पर खूब ठहाके लगे. इसी के साथ ही सीएम ने आगे कहा कि, जिस तरह प्रयागराज में कुंभ मेले का आयोजन किया गया था. ठीक उसी तरह 2025 में होने वाला महाकुंभ भी स्वच्छता, सुरक्षा और सुव्यवस्था के मॉडल पर आयोजित किया जाएगा. मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि अयोध्या के विकास के लिए 31 हजार करोड़ की परियोजनाएं चल रही हैं. पहले अयोध्या की गलियों में गोलियों की तड़तड़ाहट होती थी. सीएम ने आगे कहा कि, परिक्रमा करने पर रोक थी. अब भव्य अयोध्या बन रही है. पहले कर्फ्यू का सन्नाटा था अब मंगल भवन अमंगल हारी… का गान होता है. आज दुनिया भर से लोग अयोध्या आ रहे हैं. अयोध्या को दुनिया की सांस्कृतिक राजधानी बनाने के लिए काम किया जा रहा है.

अखिलेश ने भ्रष्टाचार को लेकर साधा निशाना

तो वहीं अखिलेश यादव ने भ्रष्टाचार को लेकर बड़ा आरोप लगाया और कहाकि, अयोध्या में सरकार के संरक्षण में जमीनों का गोरखधंधा हो रहा है. सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने राज्यपाल के अभिभाषण पर बोलते हुए कहा कि यूपी में अब जितना भ्रष्टाचार है उतना कभी नहीं रहा. अयोध्या में जमीनों की खरीदारी में जमकर भ्रष्टाचार हुआ. अखिलेश ने आगे कहा कि, ये भ्रष्टाचार सरकार के संरक्षण में हुआ. उन्होंने कहा कि भ्रष्टाचार को लेकर सरकार की नीति जीरो हो गई है. इसी के साथ ही अखिलेश ने ये भी कहा कि, “आप कहते हैं कानून- व्यवस्था पर शून्य सहिष्णुता तो फिर महिलाओं पर सबसे ज्यादा अपराध क्यों हो रहे हैं? सबसे अधिक घटनाएं उन पर क्यों हो रहे हैं? अपराध में देश में सबसे ऊपर उत्तर प्रदेश क्यों है?” इसी के साथ ही अखिलेश ने महंगाई को लेकर भी योगी सरकार पर निशाना साधा.

-भारत एक्सप्रेस

Bharat Express Live

Also Read