Bharat Express

Manipur Violence: कांग्रेस ने मोदी सरकार पर साधा निशाना, जयराम रमेश बोले- लोगों के दर्द से प्रधानमंत्री को कोई फर्क नहीं, अब तक साध रखी है चुप्पी

कांग्रेस ने बुधवार को एक बार फिर हिंसा प्रभावित मणिपुर में हुईं 9 लोगों की गोली मारकर हत्याओं को लेकर केंद्र सरकार पर हमला बोला.

जयराम रमेश, पूर्व केंद्रीय मंत्री

कांग्रेस ने बुधवार को एक बार फिर हिंसा प्रभावित मणिपुर में हुईं 9 लोगों की गोली मारकर हत्याओं को लेकर केंद्र सरकार पर हमला बोला. पूर्व केंद्रीय मंत्री जयराम रमेश ने कहा कि पूर्वोत्तर राज्य के लोगों की तकलीफ देश की पीड़ा है, लेकिन स्पष्ट रूप से प्रधानमंत्री की नहीं, क्योंकि वह लगातार चुप्पी साधे हुए हैं. उन्होंने कहा, मणिपुर के लोगों की व्यथा बेरोक-टोक जारी है. उनकी पीड़ा देश की पीड़ा है, लेकिन स्पष्ट रूप से पीएम की नहीं – वह चुप्पी बनाए हुए हैं.गृह मंत्री की देर से यात्रा और असम के मुख्यमंत्री के बाहरी हस्तक्षेप का कोई महत्वपूर्ण प्रभाव नहीं पड़ रहा है.

उग्रवादियों ने नौ लोगों की गोली मारकर की हत्या

उनकी यह टिप्पणी मणिपुर के खामलॉक गांव में संदिग्ध उग्रवादियों के हमले में कम से कम 11 लोगों के मारे जाने और 23 अन्य के घायल होने के बाद आई है. पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि भारी हथियारों से लैस आतंकवादियों ने मंगलवार देर रात खामलॉक गांव पर हमला किया और ग्रामीणों पर स्वचालित हथियारों से अंधाधुंध गोलीबारी की, जिसमें नौ लोगों की मौके पर ही मौत हो गई और महिलाओं सहित 25 अन्य घायल हो गए.

120 से ज्यादा मौतें, 350 से अधिक घायल

दो लोगों ने इलाज के दौरान दम तोड़ दिया. मणिपुर में 3 मई से विनाशकारी जातीय हिंसा जारी है, जिसमें 120 से अधिक लोग मारे गए और 350 से अधिक घायल हुए. इसके अलावा हजारों घरों, बड़ी संख्या में निजी और सरकारी वाहनों और संपत्तियों को नुकसान पहुंचा है.

यह भी पढ़ें- Manipur Violence: उग्रवादियों ने गांव में पहुंचकर की अंधाधुंध फायरिंग, नौ लोगों की मौके पर मौत, 25 घायल

गौरतलब है कि इससे पहले भी उग्रवादियों ने चार लोगों की गोली मारकर हत्या कर दी थी. पिछले कई महीनों से मणिपुर में हिंसा हो रही है. जिसको लेकर सेना, स्थानीय पुलिस और असम रायफल्स के जवानों को तैनात किया गया है. हाल ही में गृह मंत्री अमित शाह ने भी इंफाल का दौरा किया था. जहां उन्होंने सेना के अधिकारियों के अलावा सरकार के साथ बैठक की थी. गृह मंत्री ने सुरक्षा को लेकर समीक्षा की और हालातों का जायजा लिया था. दूसरी तरफ सेना का भी कहना था कि हालात धीरे-धीरे सुधर रहे हैं. गृह मंत्री ने मैतेई और कुकी समुदाय के नेताओं से बी मुलाकात की थी.

-भारत एक्सप्रेस

Bharat Express Live

Also Read