आखिरकार जीत ही गई जिंदगी, गुजरात के जामनगर में बोरवेल में गिरे 2 साल के बच्चे को 9 घंटे चली कड़ी मशक्कत के बाद बचाया गया

अधिकारियों के मुताबिक, बच्चे को इलाज के लिए तुरंत जामनगर के एक अस्पताल में स्थानांतरित कर दिया गया है.

बोरवेल में गिरे 2 साल के बच्चे को बचाया गया

गुजरात के जामनगर के गोवना गांव में मंगलवार शाम को बोरवेल में गिरे दो साल के बच्चे को आज बुधवार तड़के बचा लिया गया. इस बात की जानकारी अधिकारियों ने दी है. बता दें कि बच्चा मंगलवार शाम करीब साढ़े छह बजे बोरवेल में गिर गया था और नौ घंटे से अधिक समय के ऑपरेशन के बाद सुबह करीब चार बजे उसे बचा लिया गया. जामनगर जिले के लालपुर तालुका के कार्यकारी मजिस्ट्रेट कटान चावड़ा ने बताया, “शाम 6.30-7 बजे बच्चे के बोरवेल में गिरने की सूचना प्रशासन को मिली.

इलाज के लिए भेजा गया अस्पताल

अधिकारियों के मुताबिक, बच्चे को इलाज के लिए तुरंत जामनगर के एक अस्पताल में स्थानांतरित कर दिया गया है. बचाव अभियान के लिए अग्निशमन सेवा विभाग की दो टीमें और राज्य आपदा प्रतिक्रिया बल (एसडीआरएफ) और राष्ट्रीय आपदा प्रतिक्रिया बल (एनडीआरएफ) की टीमों को बुलाया गया. इससे पहले जनवरी में, गुजरात के द्वारका जिले में एक बोरवेल में गिरी तीन साल की बच्ची की बचाव के एक घंटे के भीतर अस्पताल ले जाते समय मौत हो गई थी. एंजेल सखरा नाम की इस लड़की को आठ घंटे के लंबे ऑपरेशन के बाद बचाया गया और खंभालिया शहर के एक सरकारी अस्पताल ले जाया गया जहां उसे मृत घोषित कर दिया गया.

इसे भी पढ़ें: Lok Sabha Election 2024: इंडिया अलायंस को झटका दे सकते हैं जयंत चौधरी, BJP ने RLD को ऑफर की 4 सीटें

Bharat Express Live

Also Read