Bharat Express

Jammu and Kashmir: कश्मीर से लेह की बीच बढ़ेगी कनेक्टिविटी, LG मनोज सिन्हा ने श्रीनगर-लेह राजमार्ग पर 2 लेन पुल का किया उद्घाटन

Jammu and Kashmir: अधिकारियों ने बताया कि जम्मू तवी बाढ़ पुनर्निर्माण परियोजना (JTFRP) के तहत 23.79 करोड़ रुपये की लागत से दो लेन के पुल को मंजूरी दी गई थी और इसकी कार्यकारी एजेंसी आर एंड बी विभाग थी.

JAMMU KASHMIR

LG मनोज सिन्हा ने श्रीनगर-लेह राजमार्ग पर 2 लेन पुल का किया उद्घाटन

Srinagar-Leh highway: जम्मू और कश्मीर में धारा 370 हटने के बाद लगातार विकास की गति को तेज किया जा रहा है. इस सिलसिले में श्रीनगर-लेह राजमार्ग पर यात्रियों के लिए एक बड़ी रहात की खबर है. मध्य कश्मीर के गांदरबल जिले के दो लेन वाले हाइवे को खोल दिया गया है. इससे अब ट्रैफिक जाम लगने की कोई समस्या नहीं आएगी. जम्मू और कश्मीर के उपराज्यपाल मनोज सिन्हा ने गांदरबल जिले में श्रीनगर-लेह राजमार्ग के साथ नाला सिंध पर बनने वाले अपनी तरह के महत्वपूर्ण और अनोखे पुल का उद्घाटन किया, जिसे वेइल पुल के रूप में भी जाना जाता है.

इस अवसर पर एलजी मनोज सिन्हा के साथ मुख्य सचिव डॉ. अरुण कुमार मेहता, डीडीसी अध्यक्ष गंदरबल नुजहत इशफाक, प्रमुख सचिव आर एंड बी शैलेंद्र कुमार के अलावा वरिष्ठ नागरिक और पुलिस प्रशासन के अधिकारी उपस्थित थे.

पुल की 10.50 मीटर की चौड़ाई

अधिकारियों ने बताया कि जम्मू तवी बाढ़ पुनर्निर्माण परियोजना (JTFRP) के तहत 23.79 करोड़ रुपये की लागत से दो लेन के पुल को मंजूरी दी गई थी और इसकी कार्यकारी एजेंसी आर एंड बी विभाग थी. उन्होंने कहा कि यह पुल कश्मीर में अपनी तरह का पहला पुल होगा. जिसमें एक आर्च-टाइप स्टील गर्डर है, जिसकी नींव 110 मीटर तक फैली हुई है और 10.50 मीटर की चौड़ाई है, जबकि पहुंच सड़कों की लंबाई 330 मीटर है. पुल के निर्माण में शुरू में अड़चन आई थी, लेकिन पिछले दो सालों में निर्माण एजेंसी और ठेकेदारों द्वारा काम की गति तेज कर दी गई थी.
ट्रस और आर्च ब्रिज तत्वों और गर्डरों के एक अद्वितीय संयोजन का उपयोग करके पुल बनाया गया, गांदरबल के लोगों के लिए एक महत्वपूर्ण लिंक बनने के लिए तैयार है, जो पुराने सिंगल-लेन पुल की जगह लेता है, जिससे अक्सर ट्रैफिक जाम और देरी होती थी.

यह पुल कश्मीर और लद्दाख को जोड़ने के महत्व को देखते हुए महत्वपूर्ण है, इसके अलावा पर्यटक और तीर्थयात्री सोनमर्ग और वार्षिक अमरनाथ यात्रा के दौरान एक ही मार्ग का उपयोग करते हैं. इस बीच, उपराज्यपाल मनोज सिन्हा ने गुरुवार को मध्य कश्मीर के गांदरबल जिले में माता खीर भवानी मंदिर तुलमुल्ला में मत्था टेका. एलजी कार्यालय ने एक ट्वीट में कहा, “माता खीर भवानी के दर्शन किए और सभी के कल्याण के लिए प्रार्थना की.” उन्होंने खीर भवानी मंदिर जाने के इच्छुक तीर्थयात्रियों के लिए आगामी ज्येष्ठ अष्टमी के शुभ अवसर के लिए की जा रही व्यवस्थाओं की भी समीक्षा की

 

 

Bharat Express Live

Also Read