Bharat Express

…तो क्या झारखंड सरकार ने लीक कराया नीट का पेपर? BJP सांसद के इस बयान के क्या हैं मायने

सूत्रों के मुताबिक हजारीबाग ओएसिस स्कूल से नीट-यूजी का पेपर लीक हुआ था. बिहार ईओयू टीम को बुकलेट बॉक्स से भी छेड़छाड़ के सबूत मिले थे.

NEET NTA Exam

नीट पेपर लीक मामला.

नीट पेपर लीक मामले के तूल पकड़ने के बाद केंद्र सरकार ने एनटीए के महानिदेशक सुबोध कुमार सिंह को पद से हटा दिया है. शिक्षा मंत्रालय ने मामले की जांच सीबीआई को सौंप दी है. इस बीच झारखंड के देवघर से 6 लोगों की गिरफ्तारी हुई है. साथ ही झारखंड के हजारीबाग से पेपर लीक की बात सामने आई है, जिस पर भाजपा सांसद निशिकांत दुबे ने अपनी प्रतिक्रिया दी है.

निशिकांत दुबे ने दिया बयान

उन्होंने झारखंड सरकार पर हमला करते हुए कहा कि हजारीबाग में पेपर लीक हुआ है, यह बड़ा सवाल है. झारखंड की सरकार कुकर्मों में लिप्त है, हो सकता है कि नीट पेपर लीक में भी शामिल हो. जांच के बाद जितने चेहरे हैं, सब बेनकाब हो जाएंगे.

ओएसिस स्कूल से नीट-यूजी का पेपर लीक हुआ था

सूत्रों के मुताबिक हजारीबाग ओएसिस स्कूल से नीट-यूजी का पेपर लीक हुआ था. बिहार ईओयू टीम को बुकलेट बॉक्स से भी छेड़छाड़ के सबूत मिले थे. ईओयू की टीम ने केंद्रीय शिक्षा मंत्रालय को नीट पेपर लीक से जुड़ी रिपोर्ट सौंप दी है.

कई आरोपियों की हो चुकी है गिरफ्तारी

इस मामले में पेपर लीक के सरगना संजीव मुखिया गैंग के कई साथियों की गिरफ्तारी की जा चुकी है. पुलिस की टीम बिहार से झारखंड तक छापेमारी कर अन्य आरोपियों को गिरफ्तार करने में जुटी है.

यह भी पढ़ें- NEET परीक्षा में गड़बड़ी की जांच करेगी CBI, देश भर में स्टूडेंट्स के जारी विरोध प्रदर्शन के बीच सरकार का बड़ा फैसला

गौरतलब है कि नीट 5 मई को आयोजित की गई थी. परीक्षा का परिणाम 4 जून को घोषित किया गया था. इसी बीच पेपर लीक होने की बात सामने आई और छात्रों ने परीक्षा रद्द कराने की मांग की. इसके बाद मामले को तूल पकड़ता देख शिक्षा मंत्रालय ने इसकी जांच केंद्रीय जांच ब्यूरो को सौंप दी.

-भारत एक्सप्रेस

Bharat Express Live

Also Read