Bharat Express

Ayodhya: अयोध्या में नरसिंह मंदिर के पुजारी ने किया LIVE सुसाइड, चौकी इंचार्ज पर लगाए गम्भीर आरोप

Ayodhya: पुजारी पर आरोप था कि वह मंदिर का सामान बेचते थे. इसी वजह से मंदिर में पुलिस तैनात कर दी गई थी. कुछ दिनों पहले ही उनके खिलाफ मामला भी दर्ज किया गया था.

मृतक पुजारी

सुभाष सिंह

Ayodhya: उत्तर प्रदेश के अयोध्या (Ayodhya) से बड़ी खबर सामने आ रही है. यहां एक मंदिर के पुजारी राम शंकर दास ने लाइव आत्महत्या कर ली है. पुजारी ने मंदिर की सुरक्षा में तैनात सिपाही पर गम्भीर आरोप लगाए हैं. जानकारी सामने आ रही है कि मंदिर के मुख्य पुजारी व मृतक राम शंकर दास के गुरु राम शरण दास करीब 5 महीने पहले से लापता हैं. बताया जा रहा है कि इसके बाद राम शंकर दास पर मंदिर का सामान बेचने का आरोप लगा था. इस पर मंदिर में पुलिस तैनात कर दी गई थी. वहीं बताया जा रहा है कि पुजारी के खिलाफ कुछ दिन पहले ही मुकदमा भी दर्ज किया गया था.

मामला अयोध्या कोतवाली क्षेत्र के रायगंज पुलिस चौकी से चंद कदम की दूरी पर स्थित नरसिंह मंदिर से जुड़ा बताया जा रहा है. मंदिर के पुजारी ने आत्महत्या से पहले फेसबुक लाइव किया और फंदे पर झूल गए. मौत से पहले अपने आखिरी वीडियो में पुजारी ने रायगंज चौकी इंचार्ज व मंदिर की सुरक्षा में तैनात सिपाही पर गंभीर आरोप लगाए हैं. पुजारी ने रायगंज चौकी इंचार्ज सुभाष सिंह पर पैसा मांगने का आरोप लगाया, इसके बाद फांसी के फंदे पर लटक गए. घटना की जानकारी पाकर पहुंचे पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों ने मंदिर का दरवाजा तोड़कर फॉरेंसिक टीम के साथ गहन छानबीन की है.

पुलिस जांच में जुटी

वहीं एसएसपी अयोध्या मुनिराज का कहना है कि इस घटना की जांच पड़ताल की जा रही है और मोबाइल में सभी वीडियो को फॉरेंसिक जांच के लिए भेजा जा रहा है. बता दें कि पुजारी राम शंकर दास के गुरु भी रहस्यमय तरीके से मंदिर से जनवरी से गायब हैं और पुलिस उनके गायब होने के मामले की भी जांच कर रही है. इस मामले में ये भी सवाल उठ रहा है कि मौत से पहले के 2 मिनट 50 सेकंड के आत्महत्या के फेसबुक लाइव वीडियो को आखिर बंद किसने किया. पुलिस इस बारे में भी छानबीन कर रही है. पुलिस को पुजारी के मोबाइल में अन्य कई वीडियो भी मिले हैं जिनकी छानबीन पुलिस कर रही है.

ये भी पढ़ें- Umesh Pal Murder Case: अतीक के वकील खान सौलत हनीफ को रिमांड पर लेने की तैयारी, उमेश पाल हत्याकांड में पुलिस करेगी पूछताछ

मंदिर में कब्जेदारी का भी चल रहा है विवाद

जानकारी सामने आई है कि अयोध्या के नरसिंह मंदिर पर कब्जेदारी का विवाद काफी समय से चल रहा है. इसके पहले मंदिर के महंत पर भी बम से हमला कर डराने और धमकाने की कोशिश की गई थी. इस मामले में मुकदमा अयोध्या कोतवाली में दर्ज है. बाद में मंदिर के वयोवृद्ध महंत रामचरण दास मंदिर से अचानक रहस्यमय तरीके से गायब हो गए थे. उनके अचानक गायब होने का मामला भी अयोध्या कोतवाली में दर्ज है, लेकिन पुलिस अभी तक उनको तलाश नहीं सकी है.

वीडियो में ये कहते दिख रहे हैं पुजारी

राम शंकर दास ( पुजारी नरसिंह मंदिर ) ने कहा, “दधिबल तिवारी, जय गोविंद पंडित, देवराम दास वेदांती , कृष्ण कुमार पांडेय मालिक व किरन सिंह, हरिओम दास ,सूरज नागा जिसको भी मंदिर चाहिए आकर ले लो. हमारे ऊपर आपने बम से हमला किया. हम नहीं मरे. आपने हमारे गुरु को गायब कराया. अब आप हमारे ऊपर महिलाओं द्वारा मुकदमा दर्ज करा रहे हो. झूठा आरोप लगा रहे हो. हमारी हत्या की साजिश रच रहे हो. हमारे ऊपर जब बम से हमला हुआ तब भी कोई कठोर कार्रवाई नहीं की गई. हमारे गुरु को गायब किया गया तब भी कोई कार्रवाई नहीं की गई. इन्हीं लोगों की तरफ से अब हमारे ऊपर मुकदमा भी पंजीकृत किया जा रहा है. अब मैं आत्महत्या करने जा रहा हूं, जिसको मंदिर लेना हो आकर ले ले.”

इसलिए बेचना शुरू किया मंदिर का सामान

जानकारी सामने आ रही है कि पुजारी पर आरोप था कि वह मंदिर का सामान बेचा करते थे. बताया जा रहा है कि महंत की गुमशुदगी के बाद राम शंकर दास आर्थिक तंगी से जूझ रहे थे. इसी बीच उन्होंने कई बार मंदिर के कुछ सामानों को बेचने की कोशिश की लेकिन मंदिर के बाहर तैनात पुलिस और रायगंज चौकी पुलिस ने ऐसा करने नहीं दिया. इसके बाद पुजारी अयोध्या कोतवाली गए और निर्वस्त्र होकर हंगामा किया. यहां भी उन्होंने आत्महत्या कर लेने की धमकी दी थी.

-भारत एक्सप्रेस

Bharat Express Live

Also Read