Ayodhya

22 जनवरी 2024 को राम मंदिर का उद्घाटन पीएम नरेंद्र मोदी ने किया था और इसी दिन भव्य मंदिर के गर्भगृह में रामलला विराजमान हुए थे. इसके बाद यानी 23 जनवरी से भक्तों के लिए मंदिर पट खोल दिए गए हैं.

राज्यसभा चुनाव में सपा में क्रॉस वोटिंग पर वह बोलीं, जब चुनाव आएगा, तो सबका सूपड़ा साफ हो जाएगा. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में एनडीए 400 का आंकड़ा पार करेगा.

पुलिस लगातार कार्रवाई कर रही है. कई फर्जी वेबसाइट को बंद करा दिया गया है. इसी के साथ ही गूगल से भी सत्यापन करके ही वेबसाइट पब्लिश करने के लिए कहा गया है.

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने कहा, हमारे लिए सौभाग्य की बात है कि रामलला अपने स्थान पर फिर से 500 वर्षों के बाद विराज रहे हैं. आज हम रामलला के दर्शन के लिए आए हैं. प्रभु सभी पर कृपा करें.

Ram Mandir: अयोध्या में बनने वाले तीन नए पथों की लंबाई 7.40 किलोमीटर होगी. योगी आदित्यनाथ सरकार ने अयोध्या में बढ़ती श्रद्धालुओं की भीड़ और सड़कों पर ट्रैफिक को मैनेज करने के लिए फैसला लिया है.

प्रस्ताव में कहा गया है कि "यह भारतीय जनता पार्टी का संकल्प था कि अयोध्या में एक भव्य राम मंदिर का निर्माण हो. भगवान श्री राम की कृपा से, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी को भूमि पूजन और प्राण प्रतिष्ठा दोनों पवित्र कार्य करने का सौभाग्य मिला."

Subramanian Swamy StatementS: सुब्रमण्यम स्वामी ने अयोध्या पहुंचकर रामलला के दर्शन किए. इसके बाद उन्होंने काशी के ज्ञानवापी मंदिर के मुद्दे पर बयान दिया और लोकसभा चुनाव के बारे में भी भविष्यवाणी की.

भाजपा के कद्दावर नेता सुब्रमण्यम स्वामी ने अचानक अयोध्या पहुंचकर राम मंदिर में भगवान के दर्शन किए. विश्व हिंदू परिषद (VHP) के महासचिव और मंदिर निर्माण समिति के प्रमुख पदाधिकारी चंपत राय ने उनका स्वागत किया.

भाजपा नेता सुब्रहमण्यम स्वामी ने रामलला की प्राण-प्रतिष्ठा को लेकर कहा कि ," सोनिया गांधी को निमंत्रण नहीं देना चाहिए था, क्योंकि वह ईसाई हैं."

BAPS Mandir: गुजराती मूल के स्वामीनारायण संप्रदाय के पूरी दुनिया में 1200 से अधिक मंदिर हैं. लेकिन इस संप्रदाय का अयोध्या कनेक्शन भी है