Ayodhya Ram Mandir: रामलला के चरणों में झुकी योगी सरकार, दर्शन कर भावुक हुए सतीश महाना

Ramlala Darshan: अयोध्या पहुंचने पर सभी का फूलों की बारिश कर स्वागत किया गया तो वहीं बाराबंकी में भी योगी कैबिनेट का भव्य स्वागत हुआ.

फोटो-सोशल मीडिया

Ayodhya Ram Mandir: आज पूरी योगी कैबिनेट रामलला के दर्शन के लिए अयोध्या पहुंच गए हैं और अब भव्य राम मंदिर में विराजमान रामलला के दर्शन प्रदेश के विधायक कर रहे हैं. इस मौके पर सीएम योगी आदित्यनाथ अपने विधायकों और मंत्रियों के साथ रामलला के दर्शन करते दिखाई दिए. तो वहीं उत्तर प्रदेश विधानसभा अध्यक्ष सतीश महाना भी रामलला के दर्शन कर भावुक दिखाई दिए. इस दौरान सभी बेहद उत्साहित दिखें और भक्ति भाव में डूबे हुए नजर आए. सभी भगवान राम की भक्ति में डूबे जयकारे लगा रहे थे. तो वहीं अयोध्या पहुंचने पर सभी पर फूलों की बारिश कर स्वागत किया गया.

बता दें राम जन्मभूमि के गेट नंबर 11 से 10 बसों में आए विधायकों और मंत्रियों को प्रवेश दिया गया. उधर, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी महर्षि वाल्मीकि अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर पहुंच और यहां से वह राम जन्मभूमि के लिए रवाना हुए. इससे पहले, लखनऊ विधानसभा के सामने से सुबह करीब साढ़े 8 बजे योगी कैबिनेट के मंत्री और विधायक लग्जरी बसों से अयोध्या के लिए रवाना हुए थे. सभी का रास्ते में बाराबंकी में शानदार स्वागत हुआ. यहां पर सभी ने नाश्ता किया और जय श्रीराम के उद्घोष के साथ आगे के लिए रवाना हो गए.

RLD विधायक भी गए साथ

बस में आरएलडी के विधायक भी साथ गए हैं तो वहीं बस में राजा भैया और आराधना मिश्रा एक साथ बेठे हुए दिखाई दिए. दोनों डिप्टी सीएम और विधानसभा अध्यक्ष सतीश महाना बस संख्या- 1 से रवाना हुए थे. तो वहीं योगी कैबिनेट के दर्शन को देखते हुए अयोध्या में सुरक्षा व्यवस्था कड़ी दिखाई दी. इस सम्बंध में DGP प्रशांत कुमार ने मीडिया को बताया कि, “आज विधानसभा और विधान परिषद के सभी सदस्य यहां दर्शन के लिए आ रहे हैं. मुख्यमंत्री और उपमुख्यमंत्री भी यहां मौजूद रहेंगे. आम दर्शनार्थियों की सुविधा का ध्यान रखा जा रहा है. यहां पर्याप्त सुरक्षा बल तैनात किया गया है.”

ये भी पढ़ें-‘उनकी सरकार में अयोध्या रक्तरंजित हुई थी…’ अखिलेश के रामलला दर्शन करने न जाने पर डिप्टी सीएम ने साधा निशाना

इनके पुरखों ने किया है सनातन धर्म का विरोध

रामलला के दर्शन के लिए अयोध्या पहुंचे उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने न्यूज एजेंसी एएनआई से बात करते हुए कहा, “विधानसभा और विधान परिषद के सभी सदस्य आज भगवान रामलला के दर्शन करने के लिए आए हैं. भगवान राम सबकी मनोकामना पूरी करें और तीसरी बार 400 पार के साथ प्रचंड बहुमत की मोदी सरकार देश में बने. सब लोग आनंदित हैं. जो नहीं आए हैं वो केवल सपा है और सपा मतलब सफा है. तो वहीं मंत्री नंद गोपाल नंदी ने कहा कि, “विपक्ष में सभी तुष्टीकरण की राजनीति करने वाले लोग हैं, चाहे कांग्रेस हो या समाजवादी पार्टी हो. समाजवादी पार्टी को विरासत में इनके पुरखों ने सनातन धर्म का विरोध दिया है. जिन्होंने राम भक्तों पर गोली चलवाने का काम किया है वो किस मुंह से यहां आएंगे, इसलिए उन्होंने(सपा) विरोध किया.”

 

 

 

Bharat Express Live

Also Read