Umesh Pal Murder Case: पुलिस की रडार पर 500 गाड़ियां, बरेली से जुड़ा है कनेक्शन, कार मालिकों से होगी पूछताछ

Umesh Pal Murder Bareilly Connection: एसपी सिटी के मुताबिक, इन कार मालिकों से बारे में पता लगाया जाएगा कि किस-किस तारीख को ये लोग बरेली आए थे और किन जगहों पर रुके थे.

umesh pal murder case

शाइस्ता परवीन

Umesh Pal Murder Case: उमेश पाल हत्याकांड में हर तरीके से पुलिस की टीमें जांच कर रही हैं. लेकिन अभी तक हत्यारों तक नहीं पहुंचा जा सका है. इसी कड़ी में बरेली के एसपी सिटी नेतृत्व में बनी एसआईटी (SIT) ने एक नए एंगल से जांच शुरू की है. बरेली पुलिस ने 3 टोल से गुजरने वाली करीब 20 हजार गाड़ियों का डाटा निकाला है. इसमें प्रयागराज के नंबर यूपी 70 की 500 गाड़ियां रडार पर है. पुलिस इन गाड़ियों के कार मालिकों से पूछताछ करेगी और हत्यारों तक पहुंचने की कोशिश करेगी.

बता दें कि पुलिस की जांच में उमेश पाल हत्याकांड में बरेली का कनेक्शन सामने आया है. जिसके बाद पुलिस की बीते 2 से 3 महीनों में प्रयागराज से बरेली आए लोगों पर नजर है. इसके लिए रेली आई गाड़ियों की पहचान की जा रही है.

तीन टोल की खंगाले CCTV फुटेज

बरेली पुलिस ने तीन टोल सीतापुर टोल, रामपुर रोड टोल और नैनीताल रोड टोल के सीसीटीवी (CCTV) फुटेज को अपने कब्जे में लेकर खंगालना शुरू कर दिया है, खासतौर पर प्रयागराज की गाड़ियों पर नजर रखी जा रही है.

यह भी पढ़ें-   Land For Job Scam: तेजस्वी यादव की याचिका पर दिल्ली हाईकोर्ट में सुनवाई आज, CBI के समन को दी चुनौती

एसपी सिटी राहुल भाटी ने बताया कि “बरेली से निकलने वाले तीन टोल पर यूपी-70 नंबर की तकरीबन 500 गाड़ियों को देखा गया है, इनके मालिकों से संपर्क किया जा रहा है और जांच की जा रहा है कि माफिया अतीक अहमद (Atiq Ahmed) के भाई अशरफ (Ashraf) और इन कार मालिकों के बीच क्या संबंध था? अगर किसी तरह का कोई लिंक मिलता है तो उसके हिसाब से आगे की कार्रवाई की जाएगी.”

कार मालिकों से बारे में लगाया जाएगा पता

एसपी सिटी के मुताबिक, इन कार मालिकों से बारे में पता लगाया जाएगा कि किस-किस तारीख को ये लोग बरेली आए थे और किन जगहों पर रुके थे. इसके साथ ही इनकी लोकेशन में कंफर्म की जाएगी. एसपी सिटी ने आगे कहा कि जो संलिप्त जेल कर्मी, वांछित अभियुक्त और जेल के मुलाकाती हैं, उन सभी के खाते खंगाले जा रहे है, कोई सुराग मिलता है तो कार्रवाई की जाएगी.

क्या है बरेली कनेक्शन ?

उमेश पाल हत्याकांड की जांच में अभी तक पता चला है कि गुजरात की साबरमती जेल में बंद माफिया डॉन अतीक अहमद ने उमेश की मौत का फरमान जारी किया था. और इसकी प्लानिंग बरेली जेल में बंद अशरफ ने की. जिसे अंजाम तक उसके बेटे शूटर्स की टीम ने दिया.

– भारत एक्सप्रेस

Bharat Express Live

Also Read