फ्लाइट में नशे में धुत शख्स ने महिला पर किया पेशाब, एयर इंडिया ने 30 दिनों का लगाया बैन

Air India: महिला ने सिफारिश की थी कि उड़ान भरने वाले इस शख्स को नो-फ्लाई सूची में रखा जाए. वहीं अब इस मामले में एयर इंडिया ने कार्रवाई करते आरोपी पर 30 दिनों के लिए प्रतिबंध लगा दिया है.

Air India FLight

एयर इंडिया (फोटो ट्विटर)

Air India: नवंबर महीने में एयर इंडिया की बिजनेस क्लास में शराब के नशे में एक महिला पर पेशाब करने वाले यात्री के खिलाफ नागरिक उड्डयन महानिदेशालय (डीजीसीए) ने घटना की पूरी रिपोर्ट मांगी है. मामले का खुलासा तब हुआ जब महिला ने कथित तौर पर एयर इंडिया के ग्रुप चेयरमैन एन चंद्रशेखरन को पत्र लिखा. साथ ही महिला ने सिफारिश की थी कि उड़ान भरने वाले इस शख्स को नो-फ्लाई सूची में रखा जाए. वहीं अब इस मामले में एयर इंडिया ने कार्रवाई करते आरोपी पर 30 दिनों के लिए प्रतिबंध लगा दिया है.

इससे पहले डीजीसीए (DHCA) ने कहा था कि लापरवाही बरतने वालों के खिलाफ उचित कार्रवाई की जाएगी. डीजीसीए ने अपने बयान में कहा था, “हम एयरलाइन से रिपोर्ट मांग रहे हैं और लापरवाही बरतने वालों के खिलाफ कार्रवाई करेंगे.”

26 नवंबर को हुई थी घटना

कथित तौर पर यह घटना 26 नवंबर को हुई थी. नशे में धुत यात्री ने कथित तौर पर न्यूयॉर्क से दिल्ली जाने वाली एयर इंडिया की एक बिजनेस क्लास में एक महिला सह-यात्री पर पेशाब किया था, जब खाना खाने के बाद बत्ती बंद कर दी गई. वह व्यक्ति कथित रूप से तब तक नहीं हिला जब तक कि किसी अन्य यात्री ने उसे जाने के लिए नहीं कहा. महिला ने मामले की शिकायत क्रू से की और उन्हें बताया कि उसके कपड़े, जूते और बैग पेशाब में भीग चुके हैं. रिपोर्ट में कहा गया है कि चालक दल ने कथित तौर पर उसे कपड़े और चप्पल का एक सेट दिया और उसे अपनी सीट पर लौटने के लिए कहा.

ये भी पढ़ें- Irfan Solanki: दारोगा ने इरफान सोलंकी की गर्दन पकड़ कर खींचा, भड़क गए सपा विधायक, देखें VIDEO

‘एयर इंडिया ने शख्स के खिलाफ पुलिस में शिकायत दर्ज कराई’

सूत्रों ने बताया कि एयर इंडिया ने अब शख्स के खिलाफ पुलिस में शिकायत दर्ज कराई है. सूत्रों ने कहा कि एयर इंडिया ने एक आंतरिक समिति का गठन किया और आरोपी यात्री को ‘नो-फ्लाई लिस्ट’ में डालने की सिफारिश की थी. मामले की एक समिति द्वारा जांच की जा रही है और एक निर्णय की प्रतीक्षा है. हालांकि, एयर इंडिया ने इस पर कोई विस्तृत बयान जारी नहीं किया है, लेकिन सूत्रों ने बताया कि महिला ने कथित तौर पर अपने पत्र में कहा है कि वह गंदी सीट पर नहीं बैठना चाहती थी, इसलिए उसे क्रू सीट दी गई थी. हालांकि, एक घंटे के बाद, उसे चालक दल द्वारा कथित तौर पर अपनी सीट पर लौटने के लिए कहा गया, जो चादरों से ढकी हुई थी. उन्होंने कहा कि चालक दल ने सीट पर कीटाणुनाशक का छिड़काव किया था.

महिला को नहीं दी थी बिजनेस क्लास में सीट

जब महिला ने वही सीट लेने से मना कर दिया तो उसे दूसरी क्रू सीट की पेशकश की गई. यह भी आरोप लगाया गया है कि खाली स्थान होने के बावजूद महिला को बिजनेस क्लास में अलग सीट नहीं दी गई. फ्लाइट में अनियंत्रित व्यवहार की कई घटनाएं हुई हैं. हाल ही में, एक हवाई-यात्री और एक इंडिगो उड़ान के चालक दल के सदस्यों में से एक के बीच जोरदार बहस सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो गई थी.

– भारत एक्सप्रेस

 

Bharat Express Live

Also Read