अब ऑफिस नहीं आए तो… TCS ने कर्मचारियों को दी चेतावनी, 5 प्वाइंट में समझे पूरी कहानी

TCS ने कथित तौर पर अपने कर्मचारियों को मार्च के अंत तक कार्यालय लौटने की अंतिम चेतावनी दी है, अन्यथा उन्हें परिणाम भुगतने होंगे. यहां 5 पॉइंट्स में पूरी कहानी है.

TCS Company

TCS कंपनी

Tcs Work From Office: भारत की सबसे बड़ी आईटी कंपनी TCS ने अपनी ऑफिस नीति पर वापसी को लेकर अंतीम चेतावनी दी है. कंपनी ने उन कर्मचारियों को मेमो भेजना शुरू कर दिया है जो एक महीने में ऑफिस से कम से कम 12 दिन का काम पूरा नहीं कर रहे हैं. ऐसे में कर्मचारियों को चेतावनी दी गई है कि यदि वे रोस्टर का पालन नहीं करते हैं तो उन पर कार्यवाही शुरू की जाएगी. यह मेमो कहता है कि आपको चेतावनी दी जाती है और निर्देश दिया जाता है कि आप तत्काल प्रभाव से अपने कार्यालय स्थान से काम पर रिपोर्ट करना शुरू कर दें.

कोरोना काल में कंपनियों ने वर्क फ्रॉम होम की सुविधा दे रखी थी. कोरोना के मामले घटने पर कंपनियों ने फिर से ऑफिस खोल दिए हैं. मगर बहुत से कर्मचारी ऑफिस नहीं आ रहे. इसके बजाय घर से ही काम कर रहे हैं. इसे लेकर कई कंपनियों में मैनेजमेंट और कर्मचारियों के बीच खींचतान चल रही है.

5 प्वाइंट में समझे पूरी कहानी

-टीसीएस ने अपने कर्मचारियों को ऑफिस आने के लिए मार्च के अंत तक समय दिया गया है. हालांकि, कंपनी ने इस बात पर जोर दिया है कि यह चेतावनी अंतिम होगा, जो आगे की देरी के लिए सहन न करना संकेत देता है.

-कंपनी ने कहा है की जो कर्मचारी समय सीमा तक कार्यालय से काम फिर से शुरू करने में विफल रहते हैं, उनपर सख्त कर्रवाई की जाएगी. यह कड़ी चेतावनी इस मामले पर टीसीएस के रुख की गंभीरता को दर्शाती है.

-सुब्रमण्यम ने कथित तौर पर निर्णय के पीछे प्राथमिक कारणों के रूप में कार्य संस्कृति और सुरक्षा चिंताओं के महत्व के बारे में भी बात की है. टीसीएस का लक्ष्य दूरस्थ कार्य से जुड़ी कमजोरियों, जैसे साइबर खतरों को खत्म करना और अपने महामारी-पूर्व कार्य वातावरण को फिर से स्थापित करना है.

-भारतीय आईटी कंपनी ने कोरोना काल में कंपनियों ने वर्क फ्रॉम होम की सुविधा दे रखी थी. कोरोना के मामले घटने पर कंपनियों ने फिर से ऑफिस खोल दिए हैं.

-कार्यकारी ने कम कर्मचारी संपर्क और संगठनात्मक सफलता पर इसके प्रतिकूल प्रभावों का हवाला देते हुए लंबे समय तक दूरस्थ कार्य के नकारात्मक परिणामों पर भी प्रकाश डाला है. टीसीएस का लक्ष्य एक मजबूत कार्यबल बनाने के लिए लोगों को आमने-सामने बातचीत करके इन चुनौतियों का समाधान करना है.

-भारत एक्सप्रेस 

Bharat Express Live

Also Read