CG Results 2023: छत्तीसगढ़ में इन 5 वजहों से हुआ CM भूपेश बघेल का Good Bye! जानें BJP ने कहां मारी बाजी

CG Results 2023: सर्वे एजेंसियों के सभी एग्जिट पोल में कांग्रेस को जीतते हुए दिखाया गया था. इसके बाद बीजेपी के यहां जीतने के चांस कम ही लग रहे थे. लेकिन आखिर में बीजेपी ने यहां कांग्रेस को हरा दिया।

bhupesh baghel

भूपेश बघेल (फोटो ट्विटर)

CG Results 2023: छत्तीसगढ़ में चुनाव के नतीजों में बीजेपी पूर्ण बहुमत के साथ जीतती हुई दिखाई दे रही है. रूझानों में बीजेपी ने बढ़त बनाई हुई है. अभी तक के रूझाने के मुताबिक, बीजेपी को 54 सीट की बढ़त हैं. वहीं कांग्रेस 34 सीट पर बनी हुई है. छत्तीसगढ़ के यह आंकड़े वाकयी में चौंकाने वाले हैं, क्योंकि सर्वे एजेंसियों के सभी एग्जिट पोल में कांग्रेस को जीतते हुए दिखाया गया था. इसके बाद बीजेपी के यहां जीतने के चांस कम ही लग रहा था. हालांकि असल में आज वोटों की काउंटिंग के दिन सभी एग्जिट पोल पूरी तरह से फेल हो गए.

बीजेपी की छत्तीसगढ़ में जीत के बाद सभी हैरान रह गए. सभी एग्जिट पोल पूरी से ध्वस्त हो गए. यहां तक की शुरुआती रूझानों में कांग्रेस आगे थी. फिर बाजी अचानक बीजेपी के पक्ष में चली गई. चलिए आपको वो 5 कारण बताते हैं, जिससे प्रदेश के मतदाताओं ने बीजेपी पर भरोसा जताया.

महतारी वंदन योजना का बीजेपी को मिला फायदा

एमपी की लाडली बहना योजना के तरह छत्तीसगढ़ में भी बीजेपी ने महतारी वंदन योजना को लागू करने का वादा किया था. जिसमें महिलाओं को 12 हजार रूपये सालाना देने का वादा किया गया. चुनाव में बीजेपी इस योजना के सहारे महिलाओं का भरोसा जीतने में कामयाब रही और उसको चुनाव में फायदा भी हुआ.

PSC और महादेव बैटिंग ऐप में घोटाले का उठाया मुद्दा

छत्तीसगढ़ में बीजेपी ने PSC और महादेव बैटिंग ऐप घोटाले का मुद्दा जोर-शोर से उठाया था. पीएससी घोटाले में अधिकारियों के बच्चों के चयन और भ्रष्टाचार को लेकर कांग्रेस पर हमला बोला था. इसके अलावा महादेव ऐप में घोटाले को लेकर भी बीजेपी ने सीएम भूपेश बघेल पर कई गंभीर आरोप लगाए थे. बीजेपी इन दोनों मुद्दों को चुनाव में भुनाने में कामयाब रही और शायद ने इसको लेकर भी पार्टी को वोट दिया.

किसानों से किया था वादा

इसके अलावा बीजेपी ने किसानों से वादा किया है कि उन्हें धान की कीमत मुश्त में दी जाएंगी. किसानों को एक एकड़ पर 21 क्विंटल और 3100 रुपये प्रति क्विंटल एक मुश्त पैसा देने का वादा किया.  जबकि इसको कांग्रेस सरकार 3 से 4 किश्त में किसानों का भुगतान कर रही है.

हिंदुत्व के मुद्दे पर वोट

बीजेपी ने अपना यहां भी हिंदुत्व के मुद्दों को उठाया था. पार्टी ने यहां कवर्धा और बेमेतरा के बिरनपुर में हुए समाज विशेष के साथ हुए झगड़े को बड़ा मुद्दा बनाया. वहीं असम के सीएम हेमंत विश्व सरमा और योगी आदित्यनाथ की सभाओं से बीजेपी का हिंदुत्व मुद्दे पर वोट को एकजुट किया.

डबल इंजन सरकार के विकास का दिलाया भरोसा

छ्तीसगढ़ में बीजेपी ने बिना किसी सीएम फेस के चुनाव लड़ा था. पार्टी ने यहां पीएम मोदी को चेहरा बनाया था. चुनाव प्रचार के समय भी पार्टी के दिग्गज नेताओं ने डबल इंजन के विकास का जनता को भरोसा दिलाया था.

– भारत एक्सप्रेस

Bharat Express Live

Also Read