Bharat Express

विदेश मंत्री एस जयशंकर की बढ़ाई गई सुरक्षा, IB ने जारी किया था अलर्ट, अब मिली Z कैटेगरी की सुरक्षा

Jaishankar: भारत के विदेश मंत्री एस जयशंकर की सुरक्षा बढ़ा दी गई. उन्हें जेड (Z) श्रेणी की सुरक्षा दी गई है.

विदेश मंत्री एस. जयशंकर (फोटो फाइल)

विदेश मंत्री एस. जयशंकर (फोटो फाइल)

Jaishankar Z Category: भारत के विदेश मंत्री एस जयशंकर की सुरक्षा बढ़ा दी गई. अब तक उन्हें वाई (Y) कैटेगरी की सुरक्षा दी जाती थी. अब अचानक उन्हें जेड (Z) कैटेगरी की सुरक्षा दी गई है. गृह मंत्रालय की एक रिपोर्ट में इसकी जानकारी दी गई है. सूत्रों के मुताबिक, केंद्रीय गृह मंत्रालय ने केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (CRPF) को एस जयशंकर की सुरक्षा का जिम्मा संभालने का निर्देश दिया है. इससे पहले उन्हें दिल्ली पुलिस (Y) श्रेणी की सुरक्षा उपलब्ध करा रही थी. इसके तहत हथियारबंद सुरक्षा कर्मियों की टीम उनकी सुरक्षा में तैनात रहती थी.

सूत्रों ने मुताबिक, सीआरपीएफ उन्हें अब ज़ेड (Z) श्रेणी की सुरक्षा उपलब्ध कराएगी और इसके तहत करीब 36 सशस्त्र कमांडो 24 घंटे उनके साथ रहेंगे.

IB की रिपोर्ट के बाद बढ़ी सुरक्षा

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, विदेश मंत्री एस जयशंकर की सुरक्षा बढ़ाय जाने के पीछे का कारण IB की ओर से जारी की गई थ्रेट रिपोर्ट को बताया जा रहा है. एजेंसी की रिपोर्ट के बाद गृह मंत्रालय ने ये बड़ा कदम उठाया है. विदेश मंत्री की सुरक्षा में अब पहले से कहीं ज्यादा जवानों की तैनाती की जाएगी. एस जयशंकर की सुरक्षा में अब 36 CRPF के कमांडो की तैनाती की जाएगी.

यह भी पढ़ें- पसमांदा मुस्लिम महाज़ और MSO ने इजराइल-फिलिस्तीन संघर्ष पर सरकार की रणनीति का किया समर्थन, कहा- बर्बर और अमानवीय कृत्य की इस्लाम नहीं देता इजाजत

इन लोगों को दे रही है CRPF सुरक्षा

CRPF की वाईआईपी सुरक्षा फिलहाल 176 लोगों को प्राप्त है जिनमें केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह और कांग्रेस नेता सोनिया गांधी, राहुल गांधी और प्रियंका गांधी वाद्रा शामिल हैं.

कनाडा को लेकर भी बढ़ सकती है सुरक्षाट

बता दें खालिस्तानी आतंकी को लेकर भारत और कनाडा के रिश्तों में कटास आई है. ऐसा माना जा रहा है कि उनकी सुरक्षा में कनाडा के मामले को लेकर भी सुरक्षा बढ़ाई गई होगी. इसके अलावा हाल ही में एस जयशंकर ने कानाडा के विदेश मंत्री मेलानी जोली से मुलाकात भी की थी. इस पर विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने कहा है कि, “हम विभिन्न स्तरों पर कनाडाई लोगों के साथ संपर्क में हैं.”

– भारत एक्सप्रेस

Bharat Express Live

Also Read