73 साल के मिथुन चक्रवर्ती को आया था ब्रेन स्ट्रोक, जानें इसके आने की वजह

दिग्गज अभिनेता मिथुन चक्रवर्ती को आज 10 फरवरी को सुबह सीने में तेज दर्द की वजह से कोलकाता के अपोलो अस्पताल में भर्ती करवाया गया. अब डॉक्टर्स ने उनके हेल्थ को लेकर अपडेट शेयर कर दिया है.

मिथुन चक्रवर्ती को आया स्ट्रोक

मिथुन चक्रवर्ती को आया स्ट्रोक

Mithun Chakraborty Health Update: बॉलीवुड एक्टर और बीजेपी नेता मिथुन चक्रवर्ती को बीते दिन सुबह सीने में दर्द की शिकायत के बाद अस्पताल में भर्ती किया गया. मिथुन को सीने में दर्द और बेचैनी महसूस होने लगा जिसके बाद उन्हें जल्दी से अस्पताल लाया गया था. अब अस्पताल की ओर से एक स्टेटमेंट जारी किया गया है जिसमें बताया गया है कि मिथुन हॉस्पिटल में हैं और उनका इलाज चल रहा है. ऐसे में आज हम आपको बताएंगे की ब्रेन स्ट्रोक आने की वजह क्या है और इसके लक्षण के बारे में.

मिथुन चक्रवर्ती को आया था ब्रेन स्ट्रोक

राष्ट्रीय पुरस्कार विजेता अभिनेता श्री मिथुन चक्रवर्ती मिथुन चक्रवर्ती को अस्पताल में Ischemic Cerebrovascular Accident (स्ट्रोक) आया जिसका सीधा कनेक्शन ब्रेन से है. फिलहाल उनका इलाज जारी है और वह होश में हैं. अस्पताल की ओर से कहा जा रहा है कि अभिनेता मिथुन चक्रवर्ती को दाहिनी ओर ऊपरी और निचले अंगों में थोड़ी कमजोरी महसूस हो रही थी जिसके बाद सुबह 9.40 बजे उन्हें कोलकाता के अपोलो अस्पताल के इमरजेंसी डिपार्टमेंट में भर्ती किया गया था. जिसके बाद वहां उमके दिमाग की एमआरआई सहित अन्य जरूरी टेस्ट भी हुए. फिलहाल वह हल्का खाना खा रहे हैं.’

क्या हैं ब्रेन स्ट्रोक आने की वजह?

ब्रेन स्ट्रोक एक ऐसी समस्या है जो आमतौर पर दिमाग में खून रूक जाने के कारण होती है, इस स्थिति में पीड़ित व्यक्ति के दिमाग की नसों में ब्लॉकेज होने लगती हैं, जिसके बाद दिमाग काम करना बंद कर देता है. ब्रेन स्टोक को एक प्रकार का हार्ट अटैक,होता है लेकिन ये दिमाग को नुकसान पहुंचाता है. ब्रेन स्ट्रोक के लक्षणों को जानना हमारे लिए बेहद जरूरी है ताकि समय पर इसका इलाज कराया जा सके.

ब्रेन स्ट्रोक के लक्षण

-सांस लेने में तकलीफ होना
-मूड में अचानक बदलाव होना
-सोंचने की क्षमता कम होना
-संतुलन न बन पाना
-ब्लैडर कंट्रोल करने में परेशानी
-याददाश्त कमजोर होना

ऐसे करें बचाव

आप अपने लाइफस्टाइल में बदलाव करके स्ट्रोक के खतरे को कम किया जा सकता है. इसके लिए यह भी जरूरी है कि आप डायबिटीज जैसी बीमारियों को कंट्रोल में रखें. धुम्रपान बंद करें, शराब का सेवन न करें और सप्ताह में कम से कम 6 घंटे योगा के साथ अच्छी डाइट जरूर लें.

-भारत एक्सप्रेस 

Bharat Express Live

Also Read