Rajasthan Elections: नतीजों से पहले ही BJP के इस सासंद ने कर दिया सचिन पायलट की जीत का दावा, बताई ये वजह

Rajasthan Elections: बीजेपी सांसद ने मुस्लिम समीकरणों का हवाला देते हुए कहा कि यहां पायलट की जीत तय है. उनको मुसलमानों के वोट मुफ्त में मिले हैं. इसलिए उनके जीतने की चांस ज्यादा है. 

सचिन पायलट और बीजेपी सांसद सुखबीर जौनपुरिया

Sachin Pilot: राजस्थान विधानसभा चुनाव के नतीजे 3 दिसंबर घोषित किए जाएंगे. लेकिन उससे पहले ही बीजेपी सांसद सुखबीर जौनपुरिया (Sukhbir Jaunpuriya) ने सचिन पायलट की जीत का ऐलान कर दिया है. हालांकि उन्होंने इसके पीछे की वजह भी बतायी है. उन्होंने टोंक विधानसभा सीट पर मुस्लिमों का हवाला दिया है. सांसद सुखबीर का कहना है कि टोंक में अल्पसंख्यक बहुत है. उन्होंने कहा कि उनकी मजबूरी है कि वह किसी और को वोट नहीं दे सकते, इसका मतलब यही है कि वह सचिन पायलट को वोट देंगे.

बीजेपी सांसद ने मुस्लिम समीकरणों का हवाला देते हुए कहा कि यहां पायलट की जीत तय है. उनको मुसलमानों के वोट मुफ्त में मिले हैं. इसलिए उनके जीतने की चांस ज्यादा है.

सचिन पायलट की पारंपरिक सीट है टोंक

बता दें कि टोंक सीट सचिन पायलट की पारंपरिक सीट है. उनका पास यहां गुर्जर और मुस्लिम समुदाय का वोट बैंक हैं. इसलिए बीजेपी के लिए यह सीट जीतना काफी मुश्किल हो जाता है. यहां पर बीजेपी के लिए जाति और धार्मिक समीकरण काम नहीं करते हैं. हालांकि बीजेपी ने इस बार सचिन पायलट को चुनौती देने के लिए स्थानीय नेता को मैदान में उतारा था, क्योंकि सचिन पायलट बाहरी नेता हैं. बीजेपी उम्मीदवार अजीत सिंह मेहता ने इस बार सचिन पायलट को घेरने के लिए स्थानीय बनाम बाहरी का मुद्दा का उठाया था.

बीजेपी प्रत्याशी ने सचिन पायलट को कैसे घेरा

पार्टी से टिकट मिलने के बाद अजीत सिंह मेहता ने कहा था कि टोंक उनका गृहक्षेत्र है और वह यहां के लोगों की समस्याओं को जानते हैं. वहीं सचिन पायलट बाहरी नेता हैं. बीजेपी प्रत्याशी ने सचिन पायलट के पिछले चुनाव जीतने का कारण भी बताया था. उन्होंने कहा था कि पिछली बार सीएम फेस होने के चलते जीत मिली थी. लेकिन इस बार उनके पास मौका नहीं है. वहीं जानकारों का मानना है कि पार्टी यहां के समीकरणों को अच्छे से जानती है इसलिए उन्होंने स्थानीय नेता को मैदान में उतारा है.

– भारत एक्सप्रेस

Bharat Express Live

Also Read