Rajasthan Election: BJP की आंधी के बीच 8 निर्दलीय उम्‍मीदवारों ने जीता चुनाव, 4 बागियों के प्रदर्शन ने चौंकाया, बड़े दलों की हार

राजस्थान विधानसभा चुनाव में इस बार 8 निर्दलीय नेता भी चुनाव जीते हैं. यहां जानिए राजस्थान के उन चार नेताओं के बारे में, जिन्होंने किसी भी पार्टी के टिकट के बिना जीत हासिल की. खास बात यह है कि ये चारों भाजपा के बागी हैं.

Ravindra Singh Bhati Chandrabhan Akhya

भाजपा के चार बागियों ने जीता चुनाव (Twitter Image)

Rajasthan Election 2023: राजस्थान, मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनावों में भारतीय जनता पार्टी को जीत मिली है. कांग्रेस से 2 राज्‍यों में सरकार छिन गई. विधानसभा चुनाव परिणाम की तस्‍वीर 3 दिसंबर की रात 9 बजे तक साफ हुई. राजस्थान की 199 सीटों में से 115 सीटें भाजपा ने जीतीं. कांग्रेस की सीटें 69 ही रह गईं. वहीं, 15 सीटें अन्‍य उम्‍मीदवारों ने जीतीं. इन 15 अन्‍य उम्‍मीदवारों में से 8 निर्दलीय प्रत्‍याशी हैं.

यह बात चौंकाने वाली है कि राजस्थान में निर्दलीय चुनाव जीतने वालों में चार भाजपा के बागी हैं, जिन्‍होंने कांग्रेस और भाजपा दोनेां दलों के क्षत्रपों के आगे खुद को साबित कर दिखाया. प्रत्‍याशी रविंद्र सिंह भाटी (Ravindra Singh Bhati) ऐसा ही एक नाम हैं, जिन्‍होंने शिव विधानसभा से चुनाव जीता है. रविंद्र सिंह भाटी की जीत की सोशल मीडिया पर चर्चा हो रही है. उनके एक समर्थक ने ट्वीट किया- “आपने अकेले चुनाव जीता ही नहीं है. अकेले दो बड़ी पार्टियों को हराया है, एक केंद्र की सत्ता की, एक राज्य की. पूरी जनता को साथ लेकर चलना, सभी जातियों, धर्मों, समुदायों को अपनाना. न्याय करना. उम्मीद है आप नौजवानों में जनता का भरोसा बढ़ाएँगे.”

Image

फतेह खान को 3300 वोटों से हराकर जीते रविंद्र भाटी

बता दें कि रविंद्र सिंह भाटी बाड़मेर की शिव विधानसभा सीट से चुनाव जीते हैं. रविंद्र सिंह भाटी ने निर्दलीय प्रत्याशी फतेह खान को 3300 वोटों से हराया है. चौंकाने वाली बात ये भी रही कि यहां कांग्रेस के अमीन खान और भाजपा के स्वरूप सिंह खारा चौथे नंबर पर रहे. आपको बता दें कि रविंद्र सिंह भाटी चुनाव से पहले भाजपा में शामिल हुए थे लेकिन उन्‍हें टिकट नहीं मिला था. ऐसे में वह निर्दलीय ही सियासी रण में कूद पड़े. फिर उन्‍होंने भाजपा और कांग्रेस दोनों ही पार्टियों के प्रत्याशियों को मात दे दी.

यह भी पढ़िए: “समाज को जातियों में बांटने की खूब कोशिश हुई, लेकिन…”, राजस्थान और छत्तीसगढ़ में बड़ी जीत के बाद PM Modi का कांग्रेस पर वार

यूनुस खान और चंद्रभान आक्या के आगे भी बड़े दल पिछड़े

रविंद्र सिंह भाटी के अलावा राजस्थान की डीडवाना विधानसभा सीट से यूनुस खान चुनाव जीते हैं. उन्‍होंने निर्दलीय चुनाव लड़ा था. चित्तौड़गढ़ में चंद्रभान आक्या 6823 वोटों से जीते हैं. उन्होंने कांग्रेस प्रत्याशी सुरेंद्र सिंह को हराया. बता दें कि चंद्रभान पहले भाजपा में थे. इसी प्रकार, राजस्थान की बयाना विधानसभा सीट से डॉ. ऋतू बनावत जीती हैं.

— भारत एक्सप्रेस

Bharat Express Live

Also Read